NDTV Khabar

पंजाब: नशे की आदत छुड़ाने के लिए मां ने बेटी को जंजीर से बांधा, सरकार से भी लगाई मदद की गुहार

मामले की जानकारी मिलने के बाद अमृतसर से सांसद और कांग्रेस के नेता गुरजीत सिंह औजला पीड़िता के घर गए और लड़की को नशे की मुक्ति छुड़ाने में हर संभव मदद देने का वादा भी किया.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
पंजाब: नशे की आदत छुड़ाने के लिए मां ने बेटी को जंजीर से बांधा, सरकार से भी लगाई मदद की गुहार

सांसद ने की पीड़ित परिवार से मुलाकात

नई दिल्ली:

पंजाब के अमृतसर से एक हैरान करने वाली खबर सामने आई हैं. यहां एक मां अपनी बेटी की नशे की आदत से इस कदर मजबूर हुई की उसने उसे जंजीर से ही बांध दिया. महिला की मानें तो उसने बेटी के पैर में जंजीर बांधने का फैसला तब किया जब उसे सरकार की तरफ से चलाए जा रहे नशा मुक्ति केंद्र से कोई मदद नहीं मिली. मामले की जानकारी मिलने के बाद अमृतसर से सांसद और कांग्रेस के नेता गुरजीत सिंह औजला पीड़िता के घर गए और लड़की को नशे की मुक्ति छुड़ाने में हर संभव मदद देने का वादा भी किया.औजला ने एएनआई से बातचीत में कहा कि यह बेहद दुर्भाग्यपूर्ण घटना है. मैनें डॉक्टरों से कहा है कि आप पीड़िता का इलाज करें. 

झारखंड: पाकुड़ में तस्करी के दर्जनों मवेशी जब्त, एक गिरफ्तार 


उधर, पीड़ित लड़की की मां ने कहा कि मैंने अपनी बेटी को सरकार द्वारा चलाई जा रहे नशा मुक्ति केंद्र में कई बार भर्ती कराया लेकिन हर बार उसे कुछ दिन के बाद ही उसे छुट्टी दे दी गई. उन्होंने कहा कि मैंने डॉक्टरों से बार-बार अनुरोध किया कि वह मेरी बेटी को तब तक एडमिट रखें जब तक वह नशा करना छोड़ न दें. लेकिन उन्होंने मेरी बात नहीं सुनी.बता दें कि पंजाब में सबसे ज्यादा युवा नशाखोरी में लिप्त रहते हैं. पंजाब में कई बार बड़ी मात्रा में ड्रग्स व अन्य नशीले पदार्थ जब्त भी किए गए हैं.

ऑस्ट्रेलिया से पढ़ाई कर लौटा युवक नोएडा में ऑन डिमांड सप्लाई करता था गांजा , ऐसे पकड़ा गया

गौरतलब है कि पिछले ही साल दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने 12 करोड़ रुपए से ज्यादा कीमत की साढ़े तीन किलो हेरोइन के साथ दो लोगों को गिरफ्तार किया था. बताया जा रहा था की ड्रग्स की ये खेप पाकिस्तान से अफगानिस्तान होते हुए भारत आई थी. दिल्ली से ये ड्रग्स पंजाब में सप्लाई होनी थी. ड्रग्स की इस खेप के साथ पकड़े गए दोनो आरोपी रविशंकर और विकास ड्रग्स सिंडिकेट के बड़े नाम बताए जा रहे थे. रविशंकर इससे पहले भी तीन बार नशीले पदार्थों की तस्करी के मामले में अदालत से दोषी करार दिया जा चुका था, उस पर इस तरह के कुल 19 केस दर्ज थे. पंजाब में रविशंकर ने एक बड़ा नेटवर्क तैयार किया हुआ था. इससे पहले पिछले एक साल में ये आरोपी करीब 50 किलो ड्रग्स की खेप अलग-अलग राज्यों में सप्लाई कर चुके थे.

टिप्पणियां

यह भी पढ़ें: उत्तर प्रदेश : 25 लाख की 840 पेटी शराब सहित 2 तस्कर गिरफ्तार

2012 में जेल से बाहर आने के बाद लगातार रविशंकर तस्करी कर रहा था. पाकिस्तान और अफगानिस्तान से ड्रग्स की ये खेप फ्लाइट के जरिये भारत आती थी. जिसके बाद कोरियर से अलग-अलग जगह सप्लाई किया जाता था. दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल के मुताबिक, दवाईयों के कैप्सूल में छुपाकर ड्रग्स की ये खेप इंडिया में सप्लाई हो रही थी. पाकिस्तान और अफगानिस्तान से नशीले पदार्थ अफ्रीकन नागरिक भेजते हैं और भारत में भी अफ्रीकन नागरिक इसे रिसीव करते हैं. 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement