NDTV Khabar

एएमयू विवाद : शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा, लोगों की तस्वीरें हटाने की क्या जरूरत?

यशवंत सिन्हा ने कहा- यह टिप्पणी नहीं करूंगा कि न्यायपालिका में जो रहा है वह सही है या गलत, लेकिन सवाल यह है कि यह हो क्यों रहा है?

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
एएमयू विवाद : शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा, लोगों की तस्वीरें हटाने की क्या जरूरत?

शत्रुघ्न सिन्हा ने अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में जिन्ना की तस्वीर को लेकर विवाद पर सवाल उठाए हैं.

खास बातें

  1. शत्रुघ्न ने कहा, अचानक से विश्वविद्यालयों का नाम बदलने की मांग क्यों?
  2. 'भारतीय अर्थव्यवस्था और लोकतंत्र के समक्ष चुनौतियां’ विषय पर व्याख्यान
  3. यशवंत ने कहा, सच बोलकर पार्टी को आईना दिखाने की कोशिश कर रहे हैं
पणजी: अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय में पाकिस्तान के संस्थापक मोहम्मद अली जिन्ना की तस्वीर हटाने को लेकर छिड़े विवाद की पृष्ठभूमि में असंतुष्ट बीजेपी नेता शत्रुघ्न सिन्हा ने आज ऐसी मांग के औचत्य पर सवाल किया. 

बीजेपी सांसद ने एएमयू का नाम लिए बिना कहा, ‘‘अचानक से विश्वविद्यालयों का नाम बदलने और कुछ लोगों की तस्वीरों को हटाने की मांग होने लगी. उन्हें क्यों हटाया जाए? इतने सालों में वे वहीं थे और सब कुछ ठीक चल रहा था.’’ सिन्हा पणजी में ‘भारतीय अर्थव्यवस्था और लोकतंत्र के समक्ष चुनौतियां’ विषय पर व्याख्यान देने के लिए आए थे. 

यह भी पढ़ें : AMU VC ने कहा, बांबे हाईकोर्ट-साबरमती आश्रम में भी जिन्ना की तस्वीर, अब तक किसी ने चिंता नहीं की

इस कार्यक्रम का आयोजन स्थानीय समूह सिटिजन्स फॉर डेमोक्रेसी ने किया था. भाजपा के पूर्व नेता यशवंत सिन्हा ने भी इस मौके पर अपनी बात रखी.  सिन्हा ने कहा कि भाजपा को उन घटनाओं पर आत्मविश्लेषण करना चाहिए जिनमें गाय की रक्षा के नाम पर देश के विभिन्न हिस्सों में कुछ लोगों की पीट-पीटकर हत्या कर दी गई. 

VIDEO : जिन्ना की तस्वीर को लेकर बवाल

टिप्पणियां
न्यायपालिक के शीर्ष स्तर पर चल रहे विवाद के संदर्भ में पटना साहिब से लोकसभा सदस्य ने कहा, ‘‘मैं इस पर टिप्पणी करने की स्थिति में नहीं हूं कि न्यायपालिका में जो रहा है वह सही है या गलत, लेकिन सवाल यह है कि यह हो क्यों रहा है.’’ उन्होंने कहा कि वह सच बोलकर अपनी पार्टी को आईना दिखाने की कोशिश कर रहे हैं.

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement