केरल में गर्भवती हथिनी की 'हत्या' में शामिल एक आरोपी को किया गया गिरफ्तार

केरल में गर्भवती हथिनी की दर्दनाक मौत का मामला तूल पकड़ता ही जा रहा है. गर्भवती हथिनी की 'हत्या' में शामिल एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है.

केरल में गर्भवती हथिनी की 'हत्या' में शामिल एक आरोपी को किया गया गिरफ्तार

गर्भवती हथिनी की मौत में शामिल एक आरोपी गिरफ्तार

तिरुअनंतपुरम:

केरल में गर्भवती हथिनी की दर्दनाक मौत का मामला तूल पकड़ता ही जा रहा है. केरल में एक गर्भवती जंगली हथिनी की मौत के मामले में एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया गया है. राज्य वन विभाग ने ट्वीट किया, ‘‘केएफडी (केरल वन विभाग) ने हथिनी की मौत मामले में एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया है.'' इस घटना की देशभर में व्यापक स्तर पर आलोचना की गई थी. वन विभाग के सूत्रों ने बृहस्पतिवार को बताया था कि हथिनी की मौत की घटना के संबंध में तीन संदिग्धों से पूछताछ की जा रही है और दो अन्य संदिग्धों की तलाश की जा रही है. ऐसा संदेह है कि 15 वर्षीय हथिनी ने पटाखों से भरा अन्नानास खा लिया जो उसके मुंह में फट गया, जिसके एक सप्ताह बाद 27 मई को वेलियार नदी में उसकी मौत हो गई.

इसकी जानकारी राज्य के वन मंत्री ने दी. एक वरिष्ठ वन अधिकारी का कहना है कि करीब 40 वर्ष का आरोपी शख्स कथित तौर पर विस्फोटक की आपूर्ति करता था. यह इस मामले में पहली गिरफ्तारी है.

केरल के मुख्‍यमंत्री पिनाराई विजयन ने कहा है कि हमारी नजर तीन संदिग्‍धों पर टिकी हुई है. सीएम ने एक ट्वीट करके कहा, 'तीन संदिग्धों पर ध्यान केंद्रित करते हुए एक जांच जारी है. पुलिस और वन विभाग संयुक्त रूप से घटना की जांच करेंगे. 

जिला पुलिस प्रमुख और जिला वन अधिकारी ने गुरुवार को घटनास्थल का दौरा किया था. हम दोषियों को न्याय दिलाने के लिए हरसंभव कोशिश करेंगे. इस बीच, वन विभाग ने कहा है कि जांच में महत्वपूर्ण कामयाबी मिली है. हथिनी की मौत की छानबीन के लिए गठित विशेष जांच टीम ने कई संदिग्धों से पूछताछ की है. वन विभाग ने कहा है कि दोषियों को कड़ी से कड़ी सजा दिलाने के लिए वह कोई कसर बाकी नहीं छोड़ेगा. विभाग ने एक ट्वीट में कहा, ‘‘हथिनी के शिकार के लिए दर्ज मामले में कई संदिग्धों से पूछताछ की गई है. इस संबंध में गठित एसआईटी को अहम सुराग मिले हैं. वन विभाग दोषियों को अधिकतम सजा दिलवाने के लिए कोई कसर बाकी नहीं छोड़ेगा.''

दूसरी ओर, केन्द्र सरकार ने इस मामले पर गंभीर रुख अपनाते हुए राज्य से रिपोर्ट मांगी है. केन्द्रीय पर्यावरण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने घटना पर गंभीर रुख अपनाते हुए कहा कि केन्द्र ने इस पर पूरी रिपोर्ट मांगी है और दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी.उन्होंने कहा,‘‘हमने घटना पर पूरी रिपोर्ट मांगी है. दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी.'' 

उद्योगपति रतन टाटा ने घटना पर दुख व्यक्त करते हुए गर्भवती हथनी की हत्या को ‘‘सोचीसमझी हत्या'' करार दिया और इस वन्‍य जीव के लिए न्याय की मांग की.

वीडियो: कैसे रुकेगी पशुओं से क्रूरता?


Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com