Hathras में स्याही फेंके जाने से नाराज संजय सिंह ने कहा-डरपोक हैं यूपी के मुख्यमंत्री

Hathras में गैंगरेप पीड़िता के गांव के बाहर स्याही फेंके जाने से नाराज आप सांसद संजय सिंह ने यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर निशाना साधा है. उन्होंने कहा कि योगी आदित्यनाथ क्षत्रिय नहीं, बल्कि डरपोक हैं. 

Hathras में स्याही फेंके जाने से नाराज संजय सिंह ने कहा-डरपोक हैं यूपी के मुख्यमंत्री

हाथरस में पीड़िता के परिवार से मिलने गए आप सांसद संजय सिंह पर फेंकी गई स्याही

हाथरस:

Hathras में गैंगरेप पीड़िता के गांव के बाहर स्याही फेंके जाने से नाराज आप सांसद (Aap MP) संजय सिंह ने यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर निशाना साधा है. उन्होंने कहा कि योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) क्षत्रिय नहीं, बल्कि डरपोक हैं.  दरअसल, संजय सिंह और आम आदमी पार्टी के नेता जब गांव के बाहर पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे, तभी दीपक शर्मा नाम का शख्स नारेबाजी करते हुए उनकी ओर बढ़ा और स्याही फेंक दी.

यह भी पढ़ें- हाथरस: आप सांसद संजय सिंह और विधायक राखी बिड़लान पर फेंकी गई काली स्याही

संजय सिंह पर यह हमला पीड़िता के परिवार से मुलाकात के बाद हुआ. उन्होंने ट्वीट कर कहा. 'हाथरस में कायरना हरकत हुई. पुलिस हमें गुड़िया (पीड़िता के लिए संबोधित) के लिए के घर ले गई, जब हम लौट रहे थे तो हम पर हमला हो गया. उस वक्त आप विधायक राखी बिड़लान, अजय दत्त और फैसल लाला भी हमारे साथ थे. ' संजय सिंह ने एक अन्य ट्वीट में कहा, योगी जी आप ठाकुर नहीं हो, आप डरपोक हो. आपने हमारे ऊपर मुकदमे दर्ज कराए, लाठीचार्ज कराया, मेरी हत्या कराने का प्रयास किया, लेकिन न्याय के लिए हमारा संघर्ष जारी रहेगा.'

Newsbeep

इस घटना को लेकर आप समर्थकों ने पुलिस की लापरवाही पर सवाल उठाए हैं. उनका कहना है कि भारी संख्या में पुलिस बल की मौजूदगी में यह घटना कैसे हो गई. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने भी आप नेताओं पर स्याही फेंके जाने की घटना को लेकर योगी सरकार को घेरा है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


गौरतलब है कि हाथरस में गैंगरेप पीड़िता के परिवार से मुलाकात के लिए राजनीतिक हस्तियों का सिलसिला जारी है. कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी, पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी के अलावा भीम आर्मी प्रमुख चंद्रशेखर आजाद भी गांव में पीड़िता के परिवारवालों से मिल चुके हैं.