खांसी और कमजोरी की शिकायत के बाद अस्पताल में भर्ती हुए अन्ना हजारे

अन्ना के करीबी के मुताबिक डॉक्टरों ने कहा कि फिलहाल चिंता की कोई बात नहीं है और उन्हें पूरी तरह आराम करने की सलाह दी है.

खांसी और कमजोरी की शिकायत के बाद अस्पताल में भर्ती हुए अन्ना हजारे

अन्ना को पुणे के शिरूर तालुका स्थित वेदांता अस्पताल लाया गया था.

खास बातें

  • वेदांता अस्पताल में करवाया गया भर्ती
  • डॉक्टरों ने हालत बताई स्थिर
  • सीने में संक्रमण को बताया खांसी और कमजोरी का कारण
पुणे:

गांधीवादी समाजसेवी अन्ना हजारे (Anna Hzare) को मंगलवार को सर्दी, खांसी और कमजोरी की शिकायत के बाद महाराष्ट्र के पुणे में एक अस्पताल में भर्ती कराया गया. अन्ना के एक करीबी ने यह जानकारी समाचार एजेंसी पीटीआई को दी है. उन्होंने बताया कि डॉक्टरों ने कहा कि फिलहाल चिंता की कोई बात नहीं है और उन्हें पूरी तरह आराम करने की सलाह दी है. दरअसल अन्ना ने सर्दी और खांसी की शिकायत की थी जिसके बाद उन्हें जांच के लिये मंगलवार सुबह अहमदनगर जिले में उनके पैतृक गांव रालेगण सिद्धि से पुणे के शिरूर तालुका स्थित वेदांता अस्पताल लाया गया था. 

अन्ना हजारे के शादी नहीं करने की वजह आई सामने, खुद किया खुलासा

82 वर्षीय अन्ना के करीबी ने बताया कि डॉक्टरों की एक टीम ने उनकी जांच की और बाद में उन्हें अस्पताल में भर्ती कर लिया गया. उन्होंने कहा, "सर्दी के चलते उन्हें सीने में संक्रमण हुआ जिसकी वजह से उन्हें खांसी और कमजोरी हुई. हालांकि चिकित्सकों ने कहा कि हजारे की हालत स्थिर है और चिंता की कोई बात नहीं." 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

'मोदी सरकार ने लोगों से किया धोखा': अन्ना हजारे ने RTI कानून में संशोधन पर कहा

लोकसभा ने जुलाई में सूचना का अधिकार (आरटीआई) कानून में संशोधन को पारित किया था, जिसके बाद हजारे ने केंद्र सरकार पर इस कदम के जरिए भारतीय नागरिकों को धोखा देने का आरोप लगाया था. उन्होंने तब कहा था कि उनकी तबीयत ठीक नहीं है लेकिन अगर देश के लोग आरटीआई अधिनियम की आत्मा की रक्षा के लिये सड़कों पर उतरें तो वह भी उनके साथ आएंगे. (इनपुट-भाषा)