NDTV Khabar

रामलीला मैदान से सरकार के खिलाफ अण्णा की हुंकार, 'जब तक प्राण है, अनशन खत्म नहीं होगा'

अनशन पर बैठे अण्णा हजारे ने कहा कि सरकार कई लोगों को बातचीत के लिए भेज रही है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
रामलीला मैदान से सरकार के खिलाफ अण्णा की हुंकार, 'जब तक प्राण है, अनशन खत्म नहीं होगा'

अण्णा हजारे (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: किसानों को फ़सल के बेहतर दाम और लोकपाल के मुद्दे पर दिल्ली के रामलीला मैदान में अण्णा हजारे का रामलीला मैदान में अनिश्चितकालीन अनशन अब छठे दिन में आ गया है, मगर अभी भी अनशन के खत्म होने के आसार नहीं दिख रहे हैं. इस बीच सरकार की ओर से कई प्रतिनिधी अण्णा हजारे को मनाने की जुगत में जुट चुके हैं, मगर अभी तक कोई ठोस परिणाम सामने नहीं आए हैं. 

अनशन पर बैठे अण्णा हजारे ने कहा कि सरकार कई लोगों को बातचीत के लिए भेज रही है. अब तक जो बात हुई वह झुठी है. सरकार ने अब तक कोई ठोस बातचीत नहीं की है. उन्होंने कहा कि किसानों को फसल लागत का डेढ़ गुणा दाम देने पर सरकार राजी हो गई है, मगर इसका वितरण कैसे किया जाएगा, इसका जवाब सरकार के पास नहीं है. 

अण्णा हजारे और सरकार के बीच दो मुद्दों पर बात फंसी

उन्होंने कहा कि हर फसल का बिक्री मूल्य निर्धारित किए जाए. अगर निर्धारित मूल्य से कम दाम मिलता है तो सरकार भरपाई करे. सरकार पर हमला बोलते हुए अण्णा ने कहा कि किसानों के लिए सरकार के पास कोई योजना नहीं है. 

साथ ही उन्होंने इस बात की वकालत की कि कृषि मूल्य आयोग को चुनाव आयोग की तरह संवैधानिक दर्ज़ा दिया जाए. किसानों के कर्ज माफ किये जाए. उन्होंने कहा कि सरकार ने लोकपाल और लोकायुक्त नियुक्ति की मांग चुनाव आयोग के पास भेजने की बात कही है. 

टिप्पणियां
अनशन खत्म होने के सवाल पर अण्णा हजारे ने कहा कि जब तक प्राण है, यह अनशन खत्म नहीं होगा. भगवान की कृपा है कि अब तक ठीक हूं. मुझे विश्वास है कि जब तक मांग पूरी नहीं होगी भगवान मुझे संभालेगा.

VIDEO : अण्णा का अनशन जारी, बिगड़ने लगी सेहत


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement