NDTV Khabar

सन 1984 की सिख विरोधी हिंसा : पुलिस ने सही समय पर रिपोर्ट कोर्ट में दाखिल नहीं की, रिकॉर्ड नष्ट हो गए

जस्टिस ढींगरा ने सुप्रीम कोर्ट में दाखिल अपनी रिपोर्ट में कहा है कि 10 मामलों में राज्य सरकारें अपील दाखिल करें

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
सन 1984 की सिख विरोधी हिंसा : पुलिस ने सही समय पर रिपोर्ट कोर्ट में दाखिल नहीं की, रिकॉर्ड नष्ट हो गए

सुप्रीम कोर्ट.

खास बातें

  1. दस ऐसी FIR हैं जिसमें सभी आरोपियों को बरी कर दिया गया
  2. कल्याणपुरी के तत्कालीन एसएचओ ने दंगाइयों की सहायता की थी
  3. पीड़ितों ने सुप्रीम कोर्ट में गुहार लगाई, पुलिस पर हो कार्रवाई
नई दिल्ली:

सन 1984 के सिख विरोधी हिंसा मामले में जस्टिस ढींगरा ने सुप्रीम कोर्ट में दाखिल अपनी रिपोर्ट में कहा है कि राज्य सरकार, अभियोजन पक्ष और पुलिस ने सही समय पर अपनी रिपोर्ट अपील अदालत में दाखिल नहीं की. इसकी वजह से केसों के रिकॉर्ड नष्ट हो गए. जस्टिस ढींगरा ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि 10 मामलों में राज्य सरकारें अपील दाखिल करें. दस वे FIR हैं जिसमें सभी आरोपियों को बरी कर दिया गया था. जस्टिस ढींगरा ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि तत्कालीन एसएचओ कल्याणपुरी ने दंगाइयों की सहायता की थी.

सन 1984 के सिख विरोधी हिंसा मामले में जस्टिस ढींगरा की रिपोर्ट को आधार बनाकर पीड़ितों ने सुप्रीम कोर्ट से गुहार लगाते हुए कहा है कि पुलिस ने इस मामले में दंगाइयों का साथ दिया है. साथ ही इस मामले में जस्टिस ढींगरा की सिफारिश के अनुसार अपील दाखिल होनी चाहिए. पुलिस वालों के खिलाफ कार्रवाई होनी चाहिए.

वहीं केंद्र की ओर से सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने कहा कि इस मामले में कानून के हिसाब से कार्रवाई करेंगे.
सरकार ने पैनल की सिफारिशों को स्वीकार कर लिया है. कुछ कार्रवाई भी की जा रही है. सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस जस्टिस बोबड़े ने कहा कि पीड़ित पक्ष अपनी अर्जी दाखिल कर सकते हैं, जिसमें वे अपनी मांगों को रख सकते हैं.


पूर्व PM मनमोहन सिंह का खुलासा, अगर नरसिम्हा राव ने मान ली होती गुजराल की ये सलाह तो रुक सकते थे 84 के दंगे

केंद्र ने कहा कि 1984 सिख विरोधी हिंसा मामले में एसआईटी की सिफारिशों को मंजूर किया गया है. कानून के मुताबिक कार्रवाई होगी.

84 के दंगे वाले बयान पर नरसिम्हा राव के पोते का डॉ. मनमोहन सिंह पर पलटवार, कहा- उन्हें पता होना चाहिए कि...

टिप्पणियां

VIDEO : नरसिम्हा राव ने गुजराल की सलाह मानी होती तो दंगे न होते



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें. India News की ज्यादा जानकारी के लिए Hindi News App डाउनलोड करें और हमें Google समाचार पर फॉलो करें


 Share
(यह भी पढ़ें)... TikTok Viral: समुद्र से निकला इतना बड़ा 'सांप' कि इंसान दिखने लगे चींटी जैसे! 2 करोड़ से ज्यादा बार देखा गया Video

Advertisement