Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
NDTV Khabar

दिल्ली पुलिस के हत्थे चढ़े ISIS के आतंकी, महाराष्ट्र, बेंगलुरु, केरल और तमिलनाडु में कर चुके थे मीटिंग

दिल्ली पुलिस ने गुरुवार को ISIS के तीन संदिग्ध आतंकियों को गिरफ्तार किया है. अब तक हुई पूछताछ से पता चला है कि इन आतंकियों ने महाराष्ट्र, बेंगलुरु, केरल और तमिलनाडु में पिछले 3 महीने में कई बार मीटिंग की हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
दिल्ली पुलिस के हत्थे चढ़े ISIS के आतंकी, महाराष्ट्र, बेंगलुरु, केरल और तमिलनाडु में कर चुके थे मीटिंग

दिल्ली के पुलिस के हत्थे चढ़े हैं ISIS के आतंकी (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. मेन हैंडलर की तलाश जारी
  2. एक आतंकी को गुजरात से किया गया गिरफ्तार
  3. दक्षिण भारत मॉड्यूल था
नई दिल्ली:

दिल्ली पुलिस ने गुरुवार को ISIS के तीन संदिग्ध आतंकियों को गिरफ्तार किया है. अब तक हुई पूछताछ से पता चला है कि इन आतंकियों ने महाराष्ट्र, बेंगलुरु, केरल और तमिलनाडु में पिछले 3 महीने में कई बार मीटिंग की हैं. इस नेटवर्क का एक मेन हैंडलर भी है जिसे पकड़ने की कोशिश चल रही है और जिसके चलते दिल्ली गुजरात तमिलनाडु और कुछ और शहरों में रेड जारी है. इन आतंकियों ने दक्षिणी भारत में इस नेटवर्क ने मॉड्यूल तैयार किया हुआ था. गुजरात से पकड़े गए इस नेटवर्क के आतंकी जफर को ट्रांजिट रिमांड पर लिया गया है और उसे दिल्ली लाया गया है.इसे पटियाला हाउस कोर्ट में पेश होना है जांच में सामने आया है इस नेटवर्क में करीब 8 से 10 संदिग्ध और शामिल है और इनकी तलाश जारी है. पहले जांच में सिर्फ 6 नामों का पता चला था.  वहीं मध्यप्रदेश ATS भी दिल्ली में इन संदिग्ध आतंकियों से पूछताछ करेगी. आपको बता दें कि दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने गुरुवार को दिल्ली के वज़ीराबाद में एनकाउंटर के बाद  ISIS के इन संदिग्ध आतंकियों ख्वाजा मोइद्दीन, सैयद अली नवास और अब्दुल समद को गिरफ्तार किया था.

ISIS से जुड़े दो आतंकवादियों की मौजूदगी की सूचना पर नेपाल से सटे इलाकों में अलर्ट


स्पेशल सेल के डीसीपी प्रमोद कुशवाहा ने बताया कि गिरफ्तार तीनों संदिग्ध दक्षिण भारत के ISIS मोड्यूल के सदस्य हैं. इन तीनों पर हिन्दूवादी नेता केपी सुरेश कुमार की हत्या का भी आरोप है. इस मामले में तीनों जेल में बंद थे और इन्हें कुछ दिन पहले ही सशर्त जमानत मिली थी लेकिन ये तीनो अपने कुछ साथियों के साथ मिलकर 12 और 13 दिसम्बर को तमिलनाडु से भाग निकले, इनमें से पकड़ में आये तीन सीधे नेपाल पहुंच गए. वहां करीब 15 से 20 दिन रहने के बाद तीनों दिल्ली वापस आए. दिल्ली आने से पहले से ही ये ख़्वाजा अपने आईएस के आका के संपर्क में था. साथ ही 2017 में तमिलनाडु में इन्होंने एमआर गांधी की हत्या की कोशिश भी की थी.

टिप्पणियां

जयपुर बम विस्फोट मामले में 4 दोषी करार, एक बरी​


 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें. India News की ज्यादा जानकारी के लिए Hindi News App डाउनलोड करें और हमें Google समाचार पर फॉलो करें


 Share
(यह भी पढ़ें)... IND vs AUS: अजीबोगरीब तरह से आउट हुईं हरमनप्रीत कौर, देखकर कीपर ने पकड़ लिया सिर, देखें Video

Advertisement