NDTV Khabar

कोई नहीं कह रहा नोटबंदी के बाद कालाधन पूरी तरह समाप्त हो गया : अरुण जेटली

वित्तमंत्री अरुण जेटली ने आज कहा कि नोटबंदी का असर अनुमान के अनुरूप ही रहा है और इससे मध्यम और दीर्घकाल में अर्थव्यवस्था को फायदा पहुंचेगा.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
कोई नहीं कह रहा नोटबंदी के बाद कालाधन पूरी तरह समाप्त हो गया : अरुण जेटली

नोटबंदी पर अरुण जेटली

खास बातें

  1. पैसा बैंकों में जमा हुआ इसका मतलब ये नहीं कि सारा वैध
  2. जीएसटी लागू होने से प्रत्यक्ष कर राजस्व को अच्छा बढ़ावा मिलेगा
  3. जीएसटी से कई नए लोग इसके दायरे में आ गए हैं
मुंबई:

वित्तमंत्री अरुण जेटली ने आज कहा कि नोटबंदी का असर अनुमान के अनुरूप ही रहा है और इससे मध्यम और दीर्घकाल में अर्थव्यवस्था को फायदा पहुंचेगा. रिजर्व बैंक के यह कहने के एक दिन बाद कि बंद किये गये 500, 1000 रुपये के करीब करीब सभी नोट बैंकिंग तंत्र में लौट आये हैं, जेटली ने कहा कि पैसा बैंकों में जमा हो गया है इसका मतलब यह नहीं है कि यह पूरा धन वैध है.

मोदी सरकार को ‘राष्ट्र-विरोधी’ कृत्य के लिये कभी माफ नहीं करेगा भारत : नोटबंदी पर बोली माकपा

उन्होंने कहा, यह कोई नहीं कह रहा है कि नोटबंदी के बाद कालाधन पूरी तरह से समाप्त हो गया है. वित्त मंत्री ने कहा कि नोटबंदी के बाद जीएसटी लागू होने से प्रत्यक्ष कर राजस्व को अच्छा बढ़ावा मिलेगा, क्योंकि इसके बाद कई नये लोग कर के दायरे में आये हैं.


टिप्पणियां

उन्होंने कहा कि नोटबंदी के बाद काफी नकदी बैंकों में जमा की गई. यह सरकार के लिए चिंता की बात नहीं है, क्योंकि यह अर्थव्यवस्था के लिए अच्छा है कि अधिक से अधिक धन औपचारिक तंत्र में आया है. वित्त मंत्री ने कहा कि फंसे कर्ज समाधान की प्रक्रिया में समय लगेगा, इसका एक झटके में सर्जिकल समाधान नहीं हो सकता. निजी क्षेत्र को कर्ज का भुगतान करना होगा या फिर किसी अन्य को इसका अधिग्रहण करना होगा.

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों (Election News in Hindi), LIVE अपडेट तथा इलेक्शन रिजल्ट (Election Results) के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement