NDTV Khabar

सिलसिला है बहुत पुराना, अरविंद केजरीवाल भी बिना सबूतों के लगाते रहे हैं आरोप

इन आरोपों से साफ़ हो रहा है कि जिस तरीके से अरविंद केजरीवाल अपने विरोधियों पर अब तक आरोप लगाते रहे हैं, उनके साथ भी उनके सहयोगी ने वही किया है.  

1037 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
सिलसिला है बहुत पुराना, अरविंद केजरीवाल भी बिना सबूतों के लगाते रहे हैं आरोप

अरविंद केजरीवाल भी लगाते रहे हैं बिना सबूतों के आरोप

खास बातें

  1. बिना सबूत के पीएम मोदी को लेकर डिग्री विवाद उठाया
  2. नितिन गडकरी पर लगाए आरोप, मानहानि का मामला
  3. अरुण जेटली पर आरोप को लेकर मानहानि का मामला चल रहा है
नई दिल्ली: कपिल मिश्रा के आरोपों को आम आदमी पार्टी में अरविंद केजरीवाल के करीबी के साथ विरोधी हो चुके कुमार विश्वास ने भी खारिज कर दिया है, लेकिन इन आरोपों से साफ़ हो रहा है कि जिस तरीके से अरविंद केजरीवाल अपने विरोधियों पर अब तक आरोप लगाते रहे हैं, उनके साथ भी उनके सहयोगी ने वही किया है. कपिल मिश्रा के केजरीवाल पर आरोप लगाने से पहले ही कुमार विश्वास और मनीष सिसोदिया अपनी पत्नी के साथ केजरीवाल के घर पहुंच गए. घंटों बैठक चली. कपिल मिश्रा के सीएम अरविंद केजरीवाल पर आरोप के बाद दिल्ली के डिप्टी सीएम बाहर आए और सारे आरोपों को सिरे ने नकार दिया.

माना जा रहा था कि कपिल मिश्रा कुमार विश्वास के करीबी हैं इसलिए उनको मंत्री पद से हटाया गया लेकिन कुमार विश्वास ने अपने नए करीबी नही बल्कि अपने पुराने करीबी में भरोसा दिखाया. यह पहली बार है जब केजरीवाल पर किसी ने करप्शन का सीधा आरोप लगाया हो. अब तक विरोधी भी सीधे केजरीवाल पर भ्रष्टाचार का आरोप नहीं लगा पाए. वैसे कपिल मिश्रा ने केजरीवाल पर लगाए आरोपों का कोई सबूत पेश नहीं किया. इससे पहले खुद केजरीवाल ने भी पीएम मोदी और दूसरे विरोधी नेताओं पर बिना सबूत आरोप लगाए हैं.
  1. 2012 में जंतर-मंतर पर पीएम मनमोहन सिंह और उनकी कैबिनेट के 14 मंत्रियों का बिना सबूत इस्तीफ़ा मांगते हुए आंदोलन किया
  2. हाल में पीएम मोदी की डिग्री और EVM टैम्परिंग के आरोप का भी कोई सबूत नहीं दिया गया
  3. केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी पर आरोप लगाया, मानहानि के मुक़दमे में जेल जाना पड़ा
  4. वित्तमंत्री अरुण जेटली पर डीडीसीए मामले में भ्रष्टाचार का आरोप लगाया, मानहानि का मुकदमा चल रहा है

गौरतलब है कि शनिवार को मंत्रिमंडल से निकाले जाने के बाद कपिल मिश्रा ने रविवार को अरविंद केजरीवाल पर गंभीर आरोप लगाए. मिश्रा ने कहा कि उन्होंने अपनी आंखों के सामने केजरीवाल को सत्येंद्र जैन से 2 करोड़ रुपये देते हुए देखा है. उन्होंने इसके खिलाफ आवाज़ उठाई तो उन्हें मंत्रिमंडल से निकाल दिया गया हालांकि आम आदमी पार्टी के बाकी नेता इन आरोपों को बेबुनियाद बता रहे हैं.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement