NDTV Khabar

शहीद जवान के परिवार को केजरीवाल ने दी एक करोड़ की मदद और मायावती ने कांग्रेस को दिया डबल झटका, 5 बड़ी खबरें

सपा प्रमुख मायावती ने कांग्रेस को चुनाव से पहले डबल झटका दिया है.मध्यप्रदेश में जहां बसपा अकेले विधानसभा चुनाव लड़ने की घोषणा कर चुकी है वहीं छत्तीसगढ़ में बजसा ने अजीत जोगी की पार्टी के साथ गठबंधन किया है.

33 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
शहीद जवान के परिवार को केजरीवाल ने दी एक करोड़ की मदद और मायावती ने कांग्रेस को दिया डबल झटका, 5 बड़ी खबरें

अरविंद केजरीवाल ने शहीद बीएसएफ जवान के परिवार को दी मदद

नई दिल्ली:

दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने बीएसएफ के शहीद जवान नरेंद्र सिंह से मुलाकात कर पीड़ित परिवार को एक करोड़ रुपये की मदद की घोषणा की है. ध्यान हो कि बीएसएफ के हेड कॉन्सटेबल 18 सितंबर से लापता थे और बाद में उनका शव क्षत-विक्षत शव बरामद हुआ था. वहीं बसपा प्रमुख मायावती ने कांग्रेस को चुनाव से पहले डबल झटका दिया है.मध्यप्रदेश में जहां बसपा अकेले विधानसभा चुनाव लड़ने की घोषणा कर चुकी है वहीं छत्तीसगढ़ में बजसा ने अजीत जोगी की पार्टी के साथ गठबंधन किया है. राजनीति के जानकार बसपा के इस कदम को कांग्रेस के लिए बड़ा झटका मान रहे हैं. उधर, जम्मू-कश्मीर के शोपियां जिले में अगवा किये गये तीन पुलिसकर्मियों की आतंकवादियों ने हत्या कर दी है. सूत्रों से मिल रही जानकारी के मुताबिक, गुरुवार की देर रात आतंकियों ने तीन पुलिसकर्मियों का अपहरण कर लिया था और अब खबर है कि उनकी हत्या कर दी गई है. हालांकि, अभी तक यह  पता नहीं चल पाया है कि किस आतंकी समूह ने इस नापाक हरकत को अंजाम दिया है. वहीं आज एशिया कप में भारतीय क्रिकेट टीम बांग्‍लादेश से भिड़ेगी. बता दें कि भारतीय टीम लीग के अपने दोनों मैच जीतकर सुपर फोर में पहले ही प्रवेश कर चुकी है. उधर, पूर्व भारतीय क्रिकेट कप्तान राहुल द्रविड़ ने राजनीति में प्रवेश को लेकर विशेष टिप्पणी की. उन्होंने कहा कि उनकी राजनीतिक में कोई रुचि नहीं है. ऐसे में राजनीति में उनके प्रवेश को लेकर चल रही खबरों का निराधार हैं. 


1. शहीद के परिवार से मिले अरविंद केजरीवाल, 1 करोड़ के मदद का किया ऐलान
 

ktumsfb8

बॉर्डर पर पाकिस्तान द्वारा किये गये कायरतापूर्ण हरकत में शहीद हुए बीएसएफ जवान नरेंद्र सिंह के परिवार को दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने 1 करोड़ रुपये की आर्थिक मदद करने का ऐलान किया है. शुक्रवार को सोनीपत में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बीएसएफ के शहीद जवान नरेन्द्र सिंह के परिवार से की मुलाकात और उनके परिवार को 1 करोड़ रुपये की मदद का ऐलान किया. बता दें कि बीएसएफ के हेड कॉन्सटेबल 18 सितंबर से लापता थे और बाद में उनका शव क्षत-विक्षत शव बरामद हुआ था. परिवार से मिलने गये दिल्ली के मुख्यमंत्री तथा आम आदमी पार्टी (AAP) के मुखिया अरविंद केजरीवाल ने कहा है कि 'सर्जिकल स्ट्राइक डे' मनाने का सबसे अच्छा तरीका यह होता कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पाकिस्तान द्वारा यातनाएं देकर मार डाले गए नरेंद्र सिंह के परिवार से मिलने जाते. उन्होंने कहा, प्रधानमंत्री को देश को यह आश्वासन देना चाहिए कि पाकिस्तान को ऐसा सटीक जवाब दिया जाएगा, ताकि वह ऐसा दुस्साहस फिर न कर सके.


2. बसपा मुखिया मायावती ने कांग्रेस को क्यों दिया डबल झटका, क्या यूपी के इस नेता ने बिगाड़ा 'खेल'
 

8lhldrh8

2019 के लोकसभा चुनाव में बीजेपी का मुकाबला करने के लिए प्रस्तावित महागठबंधन को अभी से झटके पर झटके लग रहे हैं. संभावित महागठबंधन में प्रमुख घटक मानी जा रहीं बसपा मुखिया मायावती फिलहाल इससे दूरी बनाती दिख रहीं हैं.  24 घंटे के भीतर उन्होंने कांग्रेस को दो बड़े झटके देकर महागठबंधन की उम्मीदों को बड़ा झटका दिया. मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में 'हाथी की सवारी' कर कांग्रेस चुनाव में उतरने का सपना संजोए बैठी थी, मगर मायावती ने ऐन वक्त पर कांग्रेस के हाथ का साथ न देने का फैसला किया. छत्तीसगढ़ में जहां उन्होंने कांग्रेस के बागी नेता अजित जोगी का साथ देने का फैसला किया, वहीं मध्य प्रदेश में अपने दम पर चुनाव लड़ने की. कांग्रेस को लेकर मायावती के रुख में बदलाव उस वक्त से महसूस होने लगी थी, जब उन्होंने हाल में पेट्रोल-डीजल के बढ़ते दामों का ठीकरा बीजेपी के साथ यूपीए सरकार पर भी फोड़ा था. उसी वक्त राजनीतिक विश्लेषकों ने मान लिया था कि बसपा मुखिया मायावती के इस बयान में कांग्रेस के लिए भविष्य की बड़ी चेतावनी छिपी है.


3. जम्मू-कश्मीर के शोपियां में अगवा किये गये 3 पुलिसकर्मियों की आतंकवादियों ने की हत्या
 

8kkglkp
घाटी में पुलिसवाले फिर आतंकियों के निशाने पर हैं. जम्मू-कश्मीर के शोपियां जिले में अगवा किये गये तीन पुलिसकर्मियों की आतंकवादियों ने हत्या कर दी है. सूत्रों से मिल रही जानकारी के मुताबिक, गुरुवार की देर रात आतंकियों ने तीन पुलिसकर्मियों का अपहरण कर लिया था और अब खबर है कि उनकी हत्या कर दी गई है. हालांकि, अभी तक यह  पता नहीं चल पाया है कि किस आतंकी समूह ने इस नापाक हरकत को अंजाम दियाहै.  ये पुलिसवाले स्पेशल पुलिस ऑफिसर्स थे. आतंकियों ने कुछ दिन पहले पुलिसकर्मियों को इस्तीफ़ा देने और ड्यूटी पर न जाने को कहा था, वरना अंज़ाम भुगतने की चेतावनी दी थी. पिछले महीने भी कई पुलिसकर्मियों को आतंकियों ने अगवा कर लिया था. हालांकि, बाद में एक आतंकी के पिता की रिहाई के बाद उन्हें छोड़ा गया था.पुलिसकर्मियों के शव वंगम इलाके में एक बाग से बरामद किये गये. इस जगह से करीब एक किलोमीटर दूर स्थित एक गांव से उन्हें अगवा किया गया था. पुलिस ने मृतकों की पहचान कांस्टेबल निसार अहमद, दो विशेष पुलिस अधिकारियों - फिरदौस अहमद और कुलवंत सिंह के तौर पर की है. ये पुलिसकर्मी शोपियां जिला के कापरेन और हीपोरा इलाके से थे. 
टिप्पणियां

4. Asia Cup 2018, IND vs BAN: सुपर 4 मैच में आज हार्दिक पंड्या की जगह खेल सकते हैं दीपक चाहर
 

9v1qmmao
एशिया कप-2018 (Asia Cup 2018) के सुपर-4 दौर के मुकाबले शुक्रवार से शुरू हो रहे हैं. प्रबल प्रतिद्वंद्वी पाकिस्‍तान को 8 विकेट से हराकर आत्‍मविश्‍वास से लबरेज रोहित शर्मा की टीम इंडिया आज दुबई अंतर्राष्ट्रीय स्टेडियम में बांग्‍लादेश के सामने (India vs Bangladesh) होगी. भारत ने अपने पहले मैच में हांगकांग को मात दी थी, वहीं अगले मैच में पाकिस्तान को हराया था. दूसरी ओर, बांग्लादेश ने इस टूर्नामेंट के अपने पहले मैच में श्रीलंका को मात दी थी, हालांकि टीम को दूसरे मैच में अफगानिस्‍तान के हाथों हार का सामना करना पड़ा था. भारत को इस मैच में हरफनमौला हार्दिक पंड्या की कमी खल सकती है जो चोट लगने के कारण टूर्नामेंट से बाहर हो गए हैं.


5. 2019 के लोकसभा चुनाव लड़ने को लेकर क्रिकेटर राहुल द्रविड़ ने दिया ये बयान
 

hjed2au

अपने जमाने के दिग्गज बल्लेबाज राहुल द्रविड़ ने शुक्रवार को स्पष्ट किया कि उनकी राजनीति में दिलचस्पी नहीं है उनका 2019 में होने वाले आम चुनावों में उतरने का कोई इरादा नहीं है. वहीं हाल ही में फिल्म सुपरस्टार आमिर खान ने एनडीटीवी के कार्यक्रम युवा में कहा था कि भले ही वह जल संरक्षण जैसे सामाजिक मुद्दों को लेकर मुखर हो सकते हैं, लेकिन राजनीति में आने की उनकी कोई मंशा नहीं है. भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व भारतीय कप्तान भी तब अपनी हंसी नहीं रोक पाए जब उनसे पूछा गया कि क्या किसी पार्टी ने अगले साल होने वाले चुनावों में उम्मीद्वार बनने के लिये उनसे संपर्क किया है. द्रविड़ ने हंसते हुए कहा, ''किसी ने मुझसे संपर्क नहीं किया और मेरी इसमें दिलचस्पी भी नहीं है. असल में मेरी राजनीति में ही कोई दिलचस्पी नहीं है.'' पूर्व में कई भारतीय क्रिकेटर राजनीति में उतरते रहें हैं लेकिन एक जमाने में 'फैब फाइव' के नाम से मशहूर रहे सचिन तेंदुलकर, द्रविड़, सौरव गांगुली, वीवीएस लक्ष्मण और वीरेंद्र सहवाग ने तमाम अटकलबाजियों के बावजूद खुद को राजनीति से दूर रखा. गांगुली हालांकि क्रिकेट प्रशासन में प्रवेश कर चुके हैं और वर्तमान में बंगाल क्रिकेट संघ के अध्यक्ष हैं. 

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों, LIVE अपडेट तथा चुनाव कार्यक्रम के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement