NDTV Khabar

केजरीवाल ने कहा : कैग रिपोर्ट में सामने आ जाएगा बिजली कंपनियों का सच

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
केजरीवाल ने कहा : कैग रिपोर्ट में सामने आ जाएगा बिजली कंपनियों का सच
नई दिल्ली: बिजली कंपनियों द्वारा पैसे की कमी का हवाला देते हुए बिजली कटौती की घोषणा की आलोचना करते हुए दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा है कि बिजली कंपनियों पर कैग रिपोर्ट में सब सच सामने आ जाएगा।

केजरीवाल ने संवाददाताओं से कहा कि बिजली कंपनियां कह रही हैं कि उनके पास पैसा नहीं है, तो उनका पैसा कहां हैं। कैग उनके पैसे का पता लगा रहा है और कैग रिपोर्ट में सब सच सामने आ जाएगा। उन्होंने कहा, कैग रिपोर्ट के बाद हमें पता चल जाएगा कि सच में ये कंपनियां वित्तीय संकट का सामना कर रही हैं कि नहीं।

आज से 8-10 घंटे की बिजली कटौती की घोषणा पर बिजली कंपनियों के खिलाफ क्या दिल्ली सरकार कदम उठाएगी, इस पर मुख्यमंत्री ने कहा, कैग रिपोर्ट आने दीजिए और इसके तथ्यों के आधार पर हम आगे बढ़ेंगे।

वहीं, दिल्ली के ज्यादातर इलाकों में बिजली की भारी कटौती की धमकी के बीच दिल्ली विद्युत नियामकीय आयोग (डीईआरसी) ने राष्ट्रीय राजधानी में बिजली की दरें 8 प्रतिशत तक बढ़ा दी है। डीईआरसी के चेयरमैन पीडी सुधाकर ने बताया कि ईंधन लागत समायोजन से अधिभार में बढ़ोतरी हुई है, जो बीएसईएस यमुना पावर के लिए 8 फीसदी, बीएसईएस राजधानी के लिए 6 फीसदी और टाटा पॉवर दिल्ली डिस्ट्रीब्यूशन लिमिटेड के लिए 7 फीसदी है।

केजरीवाल ने शुक्रवार को बीएसईएस बिजली कंपनी पर दिन में 10 घंटे तक बिजली कटौती की चेतावनी पर ब्लैकमेल करने का आरोप लगाया था और आगाह किया कि लाइसेंस रद्द करने सहित कड़ा कदम उठाया जाएगा। मुख्यमंत्री ने यह भी कहा कि टाटा और अंबानी ही देश में बिजली वितरण का काम नहीं करते हैं। सरकार अन्य कंपनियों को भी प्रवेश देने की इच्छुक है। गौरतलब है कि इस समय दिल्ली में वितरण का काम टाटा समूह और अंबानी समूह की कंपनियों के पास है।


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement