मस्जिदें खुलने से पहले ओवैसी ने मुस्लिमों से की अपील, कहा- 8 जून के बाद ऐसे होनी चाहिए नमाज़

असदुद्दीन ओवैसी ने कहा है कि अब जब मस्जिदें खुलने वाली हैं, तो मुस्लिम समुदाय के लोगों और मस्जिदों के मुफ्तियों को कोरोनावायरस के बीच जीने के लिए नई आदतें अपना लेनी चाहिए और नए नियम बनाने जाने चाहिए.

मस्जिदें खुलने से पहले ओवैसी ने मुस्लिमों से की अपील, कहा- 8 जून के बाद ऐसे होनी चाहिए नमाज़

ओवैसी ने कहा है कि धार्मिक स्थलों को लेकर नए नियम बनाए जाने चाहिए. (फाइल फोटो)

खास बातें

  • 8 जून से खुल रहे हैं देश में धार्मिक स्थल
  • ओवैसी ने नए नियमों के लिए दिए सुझाव
  • कहा- सोशल डिस्टेंसिंग को लेकर लागू हों नए नियम
नई दिल्ली:

कोरोनावायरस लॉकडाउन से मिली ढील और Unlock1 प्लान के तहत 8 जून से देशभर में धार्मिक स्थलों को खोलने का ऐलान किया गया है. ऐसे में ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) के चीफ और लोकसभा सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने मस्जिदों को खोलने के संबंध में एक अपील की है. उनका कहना है कि अब जब मस्जिदें खुलने वाली हैं, तो मुस्लिम समुदाय के लोगों और मस्जिदों के मुफ्तियों को कोरोनावायरस के बीच जीने के लिए नई आदतें अपना लेनी चाहिए और नए नियम बनाने जाने चाहिए.

बुधवार को ओवैसी ने ट्विटर पर अपनी बात रखी. उन्होंने कहा कि मस्जिदों को मुफ्तियों को चाहिए कि कोरोनावायरस के दौर में वो नमाज़ियों के लिए नए नियम बनाएं. उन्होंने ट्वीट में लिखा, 'यह वायरस कहीं नहीं जा रहा. ऐसे में हमें यह तय करना होगा कि हम 8 जून से खुल रहे धार्मिक स्थलों पर जरूरी बचाव करें. मैंने मुस्लिमों और खासकर मुफ्तियों से ये कुछ नियमों का पालन करने की दरख्वास्त की है-  मस्जिदों से कालीन हटा ली जाए और लोग फर्श पर नमाज़ पढ़ें. वरिष्ठ नागरिकों और किसी बीमारी से जूझ रहे लोगों को जून के अंत तक भीड़-भाड़ में आने से मना करें. वज़ु घर से ही करके आएं. मस्जिदों में वज़ु और टॉयलेट की सुविधाएं बंद रखें. नमाज़ पढ़े जाने के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए उचित दूरी बनाए रखें.

ओवैसी ने इसके अलावा धार्मिक स्थलों के खुलने के मौके पर उन्होंने सभी धार्मिक स्थलों के लिए नियम लाने का भी प्रस्ताव रखा. उन्होंने ट्वीट में कहा, 'मैं तेलंगाना के मुख्यमंत्री, तेलंगाना डीजीपी और मुख्य सचिव से आग्रह करता हूं कि वो सभी धार्मिक समुदायों के बड़े लोगों के साथ मीटिंग बुलाएं ताकि राज्य के हर धार्मिक स्थल पर सोशल डिस्टेंसिंग से जुड़े नए नियम बनाए जा सकें.'

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

बता दें कि केंद्र सरकार ने पिछले हफ्ते कोरोनावायरस लॉकडाउन को 30 जून तक बढ़ाने का ऐलान किया था लेकिन इस दौरान बहुत सारी रियायतें दी गई हैं. देश को धीरे-धीरे खोलने के लिए Unclock1 प्लान लाया गया है, जिसमें 8 जून से धार्मिक स्थल खोले जाने का ऐलान भी है.

वीडियो: लॉकडाउन कानूनी तौर पर असंवैधानिक : असदुद्दीन ओवैसी