रजनीकांत ने मोदी-शाह को बताया 'कृष्ण-अर्जुन', तो ओवैसी बोले- देश में एक और 'महाभारत' चाहते हैं क्या...?

जम्मू एवं कश्मीर को विशेष दर्जा देने वाले अनुच्छेद 370 और अनुच्छेद 35ए को भारतीय संविधान से हटाने के लिए रजनीकांत ने PM मोदी और अमित शाह को 'कृष्ण तथा अर्जुन' की संज्ञा दी, जिस पर असदुद्दीन ओवैसी ने सवाल किया कि क्या आप देश में एक और 'महाभारत' चाहते हैं...?

रजनीकांत ने मोदी-शाह को बताया 'कृष्ण-अर्जुन', तो ओवैसी बोले- देश में एक और 'महाभारत' चाहते हैं क्या...?

असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi)- फाइल फोटो

नई दिल्ली:

जम्मू एवं कश्मीर को विशेष दर्जा देने वाले अनुच्छेद 370 और अनुच्छेद 35ए को भारतीय संविधान से हटाने के लिए तमिल सुपरस्टार और राजनेता रजनीकांत ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह को 'कृष्ण तथा अर्जुन' की संज्ञा दी, जिस पर ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) प्रमुख तथा सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने सवाल किया कि क्या आप देश में एक और 'महाभारत' चाहते हैं...?

समाचार एजेंसी ANI के अनुसार, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भारतीय जनता पार्टी (BJP) के खिलाफ मुखर रहने वाले असदुद्दीन ओवैसी ने कहा, "तमिलनाडु के एक अभिनेता (रजनीकांत) ने अनुच्छेद 370 हटाने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृहमंत्री अमित शाह को 'कृष्ण तथा अर्जुन' की संज्ञा दी है... तो इन हालात में कौरव और पांडव कौन हैं...? क्या आप देश में एक और 'महाभारत' चाहते हैं...?"

तीन तलाक बिल पास होने के बाद AIMIM प्रमुख ओवैसी का मोदी सरकार पर हमला, किया यह Tweet

इसके अलावा, असदुद्दीन ओवैसी ने देश के पहले प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू और पहले उपप्रधानमंत्री व गृहमंत्री सरदार वल्लभभाई पटेल द्वारा कश्मीर पर किए गए फैसले का समर्थन करते हुए यह भी कहा कि भारतीय जनसंघ के नेता श्यामा प्रसाद मुखर्जी ने भी अनुच्छेद 370 को स्वीकार किया था. ओवैसी ने कहा, "प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पास सरदार पटेल और पंडित जवाहरलाल नेहरू जैसी राजनैतिक समझ नहीं है... जब उन्होंने कश्मीर पर फैसला किया था, देशहित में किया था... उनका दावा है कि वे श्यामा प्रसाद मुखर्जी का अनुसरण कर रहे हैं, लेकिन वे नहीं जानते कि उन्होंने अनुच्छेद 370 को कबूल किया था..."

AIMIM प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी का मोदी सरकार पर हमला, बोले- जहां BJP की सरकार, वहां मॉब लिंचिंग

ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) प्रमुख ने केंद्र सरकार पर सत्ता से प्यार करने का आरोप लगाते हुए कहा, "मैं जानता हूं कि सरकार को कश्मीर से प्यार है, कश्मीरियों से नहीं... मैं जानता हूं, उन्हें ज़मीन से प्यार है, वहां रहने वालों से नहीं... उन्हें सत्ता से प्यार है, इंसाफ से नहीं... वे सिर्फ सत्ता बनाए रखना चाहते हैं... लेकिन मैं उन्हें याद दिलाना चाहूंगा कि कोई भी हमेशा ज़न्दी नहीं रहता, हमेशा राज नहीं करता..."

Video: लोकसभा में बोले ओवैसी- 'क्या अब मैं हिमाचल प्रदेश में खेत खरीद सकता हूं?'

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com