NDTV Khabar

जेल में बंद आसाराम का ऑडियो क्लिप वायरल, कहा- अच्छे दिन आएंगे, सच छिपता नहीं, झूठ के पैर नहीं होते

जोधपुर की जेल में उम्रकैद की सजा काट रहे आसाराम का एक कथित ऑडियो क्लिप ऑनलाइन वायरल हो रहा है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
जेल में बंद आसाराम का ऑडियो क्लिप वायरल, कहा- अच्छे दिन आएंगे, सच छिपता नहीं, झूठ के पैर नहीं होते

आसाराम (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. आसाराम का ऑडियो क्लिप वायरल.
  2. आसाराम जेल में है बंद.
  3. फोन पर उपदेश देते सुना गया.
जोधपुर:

जोधपुर की जेल में उम्रकैद की सजा काट रहे आसाराम का एक कथित ऑडियो क्लिप ऑनलाइन वायरल हो रहा है जिसमें स्वयंभू बाबा आसाराम फोन पर एक व्यक्ति को यह कहते हुए सुनाई दे रहा है कि जेल में वह थोड़े समय रहेगा और ‘अच्छे दिन आएंगे.’ जोधपुर केंद्रीय कारागार के डीआईजी विक्रम सिंह के अनुसार, आसाराम की शुक्रवार को टेलीफोन पर बातचीत के दौरान 15 मिनट की यह ऑडियो क्लिप रिकॉर्ड की गई होगी. इससे दो दिन पहले जोधपुर की एक अदालत ने पांच साल पहले उसके आश्रम में एक नाबालिग लड़की से बलात्कार करने का दोषी ठहराया और उसे उम्रकैद की सजा सुनाई. जेल अधिकारियों की अनुमति से फोन किया गया था.

गवाह का खुलासा, आसाराम 'टॉर्च जलाकर' चुनता था अपने लिए लड़कियां

सिंह ने कहा , ‘कैदियों को एक महीने में 80 मिनट के लिए उनके द्वारा दिए गए दो नंबरों पर फोन करने की अनुमति दी जाती है. उसने शुक्रवार को शाम साढे़ छह बजे साबरमती आश्रम के एक ‘साधक’ से बात की. हो सकता है कि तब यह बातचीत रिकॉर्ड की गई हो और वायरल हो गई हो.’ 


टेलीफोन पर यह बातचीत उपदेश जैसी लग रही है. इस एक तरफा बातचीत में आसाराम अपने समर्थकों का शांति बनाए रखने और फैसले के लिए जोधपुर ना आने के लिए आभार जता रहा है.  वह ऑडियो क्लिप में कथित रूप से कह रहा है , ‘हमें कानून एवं व्यवस्था का सम्मान करना चाहिए. मैंने भी यही किया.’ 

आसाराम को उम्रकैद होने पर आया राखी सावंत का रिएक्शन, बोलीं, फांसी क्यों नहीं हुई

उसने दावा किया कि कुछ लोगों ने उनके आश्रम को बदनाम करने का अभियन चला रखा है और वे इस पर कब्जा करना चाहते हैं. उसने कहा , ‘ऐसे उकसाने वाली बातों या आश्रम के लेटर हेड पर जो कुछ भी लिखा जा रहा है उससे बहक ना जाए.’ सह आरोपी शिल्पी और शरत का जिक्र करते हुए आसाराम ने कहा कि वह जेल से सबसे पहले उनकी रिहाई का बंदोबस्त करेगा क्योंकि यह ‘माता-पिता का कर्तव्य है कि वे पहले अपने बच्चों के बारे में सोचें.’ शिल्पी और शरत को विशेष अदालत से 20 साल जेल की सजा मिली है.

उम्रकैद की सजा मिलने के बाद दुखी था आसाराम, वकीलों से कहा- कुछ करो

टिप्पणियां

आसाराम ने कहा , ‘अगर शिल्पी और शरत की रिहाई के लिए और वकीलों की जरुरत पड़ी तो वो भी किया जाएगा. इसके बाद बापू जेल से बाहर आएगा.’ उसने कहा , ‘अगर निचली अदालत में कोई गलती हुई है तो उसे सुधारने के लिए ऊपरी अदालतें हैं.’ आसाराम ने कहा , ‘सच छिपता नहीं है और झूठ के पैर नहीं होते. जो भी आरोप हैं वे फालतू हैं.’ बातचीत के अंत में वह शरत से बात करने के लिए कहता है तो बोलता है कि जेल में चिंता की कोई बात नहीं है. 

VIDEO: गुरु बना शैतान: जब कोर्ट ने आसाराम को कहा 'शैतान' (इनपुट भाषा से)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement