NDTV Khabar

असम में मुख्‍यमंत्री और विधायकों की सैलरी 50 प्रतिशत तक बढ़ाने का प्रस्ताव

असम सरकार ने मुख्यमंत्री और विधानसभाध्यक्ष सहित सभी निर्वाचित प्रतिनिधियों का वेतन एक अप्रैल से 50 प्रतिशत तक बढ़ाने का प्रस्ताव दिया है.

424 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
असम में मुख्‍यमंत्री और विधायकों की सैलरी 50 प्रतिशत तक बढ़ाने का प्रस्ताव

असम के मुख्‍यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल

खास बातें

  1. विधानसभाध्यक्ष और उपाध्यक्ष का वेतन बढ़ाने के विधेयक पेश किया
  2. संसदीय मदद और व्यय के रूप में 30000 रुपये का भत्ता भी मिलेगा
  3. मुख्यमंत्री को मौजूदा वेतन 90000 रुपये की तुलना में 1.3 लाख रुपये मिलेंगे
गुवाहाटी : असम सरकार ने मुख्यमंत्री और विधानसभाध्यक्ष सहित सभी निर्वाचित प्रतिनिधियों का वेतन एक अप्रैल से 50 प्रतिशत तक बढ़ाने का प्रस्ताव दिया है. संसदीय कार्य मंत्री चंद्र मोहन पटवारी ने इस संबंध में असम विधानसभा में तीन विधेयक पेश किये.

विधानसभाध्यक्ष और उपाध्यक्ष का वेतन बढ़ाने के विधेयक के मुताबिक, उनकी तनख्वाह मौजूदा 80000 रूपये और 75000 रुपये से बढ़ाकर प्रतिमाह क्रमश: 1.2 लाख रुपये और एक लाख रुपये करने का प्रस्ताव दिया गया है. इस तरह दोनों के मौजूदा वेतन में क्रमश: 50 प्रतिशत और 33.33 प्रतिशत की बढ़ोतरी होगी.

टिप्पणियां
वेतन के अलावा दोनों को संसदीय मदद और व्यय के रूप में 30000 रुपये का भत्ता भी मिलेगा. मुख्यमंत्री को मौजूदा वेतन 90000 रुपये की तुलना में 1.3 लाख रुपये मिलेगा. इसके अलावा भत्ते का भी प्रस्ताव है. कुल मिलाकर हर महीने 1.64 लाख रूपये मिलेगा. कैबिनेट मंत्रियों और विपक्ष के नेता का वेतन मौजूदा 80000 रुपये से बढ़ाकर1.1 लाख रुपये किया गया है. सभी विधायकों का वेतन भी मौजूदा 60000 रुपये प्रतिमाह को बढ़ाकर 80000 रुपये करने का प्रस्ताव दिया गया है.

पूर्व विधायकों की पेंशन बढ़ाने का भी प्रस्ताव दिया गया है.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement