असम के इस TV शो पर लगा बैन, हिंदू संगठनों ने लगाया 'लव जिहाद' को बढ़ावा देने का आरोप

असम (Assam TV Show Ban) में एक टीवी चैनल के शो को दो महीने के लिए बैन कर दिया गया है. हिंदूवादी संगठनों ने आरोप लगाया कि यह शो 'लव जिहाद' (Love Jihad) को बढ़ावा दे रहा है.

असम के इस TV शो पर लगा बैन, हिंदू संगठनों ने लगाया 'लव जिहाद' को बढ़ावा देने का आरोप

प्रीति कोंगकोना शो की लीड एक्ट्रेस हैं.

खास बातें

  • असम के टीवी शो पर लगा बैन
  • 'बेगम जान' शो पर 2 महीने का बैन
  • 'लव जिहाद' को बढ़ावा देने का आरोप
गुवाहाटी:

असम (Assam TV Show Ban) में एक टीवी चैनल के शो को दो महीने के लिए बैन कर दिया गया है. हिंदूवादी संगठनों ने आरोप लगाया कि यह शो 'लव जिहाद' (Love Jihad) को बढ़ावा दे रहा है और असम की संस्कृति को धूमिल कर रहा है. मामले के तूल पकड़ने के बाद स्थानीय प्रशासन ने 24 अगस्त को 'बेगम जान' (Begum Jaan) शो पर दो महीने का बैन लगा दिया है. एंटरटेनमेंट चैनल 'रेंगोनी' पर इसे दिखाया जाता था. चैनल की ओर से कहा गया है कि यह शो धर्म से परे इंसानियत को बढ़ावा देता था.

इसी साल जुलाई में प्रसारित किए शो में दिखाया गया था कि कैसे एक हिंदू लड़की मुस्लिम शख्स की मदद से समाज से लड़ती है. जिसके बाद इसे लेकर विवाद शुरू हो गया. सत्ताधारी पार्टी बीजेपी (BJP) के वैचारिक संगठन राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) से जुड़े 'हिंदू जागरण मंच' (Hindu Jagran Manch) और अन्य संगठनों ने इस शो पर आपत्ति जताई. शो के विरोध में सड़कों पर प्रदर्शन होने लगा और सोशल मीडिया पर इसे पूरी तरह से बैन करने की मांग उठने लगी.

असम : तिनसुकिया प्रशासन ने कहा, बागजन तेल कुएं में लगी आग फैल नहीं रही है

गुवाहाटी के पुलिस कमिश्नर एमपी गुप्ता ने NDTV से बातचीत में कहा, 'जिला स्तर की 10 सदस्यीय कमेटी से इस बारे में चर्चा की गई थी. आरोप है कि ये शो लोगों की धार्मिक भावनाएं आहत कर रहा है. प्रथम दृष्टया शांति व्यवस्था बनी रहे, इसको देखते हुए ये तय किया गया कि शो को दो महीने के लिए बैन किया जाएगा.' पुलिस पर आरोप लगा है कि 'बेगम जान' की लीड एक्ट्रेस प्रीति कोंगकोना की शिकायत के बावजूद कोई एक्शन नहीं लिया गया. दरअसल प्रीति ने शिकायत की थी कि सोशल मीडिया पर ट्रोल्स द्वारा उनका उत्पीड़न किया जा रहा है.

असम में कोरोना योद्धा तक प्लाज्मा पहुंचाने के लिए रातभर में तय किया गया 450 किमी का सफर

प्रीति ने कहा कि शो के एयर होने के बाद सोशल मीडिया पर उनके और उनके परिवार का उत्पीड़न किया जा रहा है. यहां तक कि उन्हें रेप की धमकी भी मिल चुकी है. उन्होंने कहा, 'मुझे प्रशासन और कानून पर पूरा भरोसा है. मुझे सोशल मीडिया के जरिए रेप की धमकी मिली. किसी भी आर्टिस्ट को सोशल मीडिया पर ट्रोल करना, आजकल का ट्रेंड बन गया है. ये बहुत कष्टदायक है.' पुलिस ने इस मामले में कहा कि एक्ट्रेस की शिकायत पर केस दर्ज किया गया है और वह मामले की जांच कर रहे हैं.

असम में आई बाढ़ के लिए अक्षय कुमार ने राहत कोष में दिए एक करोड़ रुपये, मुख्यमंत्री ने Tweet कर कही ये बात

'हिंदू जागरण मंच' के प्रदेश अध्यक्ष मृणाल कुमार लश्कर ने इस बारे में कहा, 'बेगम जान ने सही अर्थों में हिंदू समाज या असमिया समाज के विचारों का चित्रण नहीं किया है. यह ब्राह्मणों को विश्वास दिलाता है. असमिया समाज में पहले से ही लव जिहाद है और ये सीरियल इसे और ज्यादा बढ़ावा दे सकता है.' रेंगोनी टीवी के CMD संजीवे नारायण ने इस बारे में कहा, 'इस शो का लव जिहाद से कोई लेना-देना नहीं है. ये एक हिंदू लड़की के बारे में है जो मुस्लिम इलाके में मुसीबत में पड़ जाती है और एक मुस्लिम शख्स उसकी मदद करता है. हमारी लीगल टीम इसे देख रही है. ये पहली बार है कि इस तरह की कार्रवाई हो रही है. हम इस सीरियल में किसी भी धर्म के लिए अपमानजनक कुछ भी नहीं देखते हैं.'

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

VIDEO: टिकटॉक बैन होने के बाद क्या कर रहे हैं टिकटॉक के सितारे?