बिहार चुनावों के साथ 11 राज्यों की 58 असेंबली सीटों पर उपचुनाव के नतीजे तय करेंगे भविष्य की राजनीति 

Assembly Bypoll Results: जिन 11 राज्यों की 58 विधानसभा सीटों पर उपचुनाव हुए हैं. उनमें मध्य प्रदेश की 28, गुजरात की आठ, उत्तर प्रदेश की सात, मणिपुर की चार, कर्नाटक, ओडिशा, झारखंड और नागालैंड की दो-दो सीटें तथा छत्तीसगढ़, तेलंगाना और हरियाणा की एक-एक सीट पर भी उपचुनाव हुए हैं.

बिहार चुनावों के साथ 11 राज्यों की 58 असेंबली सीटों पर उपचुनाव के नतीजे तय करेंगे भविष्य की राजनीति 

Assembly Bypoll Results 2020: मध्य प्रदेश में 28 सीटों पर उपचुनाव हुए हैं, जो राज्य की शिवराज सिंह चौहान सरकार के लिए बेहद अहम हैं.

नई दिल्ली:

बिहार विधानसभा की 243 सीटों के साथ-साथ 11 राज्यों की कुल 58 विधानसभा सीटों और बिहार की एक संसदीय सीट वाल्मीकि नगर में हुए उपचुनाव के नतीजे 10 नवंबर को आएंगे. इन नतीजों के साथ ही देश और कई राज्यों की राजनीति की दशा और दिशा तय हो सकेगी. इन चुनाव परिणामों से यह भी तय होगा कि क्या नरेंद्र मोदी सरकार-2.0 और भाजपा के प्रति अभी भी लोगों का आकर्षण बरकरार है या नहीं?

एग्जिट पोल के रुझानों में बिहार में राजद नेता तेजस्वी यादव की अगुवाई वाले महागठबंधन को बढ़त मिलता हुआ दिखाया गया है. अगर ये रुझान चुनाव नतीजों में तब्दील होते हैं तब राज्य में 15 साल पुरानी एनडीए सरकार न सिर्फ गिरेगी बल्कि एनडीए के सियासी समीकरण में भी बदलाव देखने को मिल सकता है. कई दलों में टूट-फूट की भी संभावना से इनकार नहीं किया जा सकता है. इसके साथ ही बीजेपी, जो अबतक नंबर तीन की पार्टी रह रही थी, सीधे नंबर दो पर आकर मुख्य विपक्षी पार्टी बन सकती है.

बिहार के एग्जिट पोल से 'महागठबंधन' खुश, NDA को उम्मीद 'मिलेंगी ज्यादा सीटें'

बहरहाल, जिन 11 राज्यों की 58 विधानसभा सीटों पर उप चुनाव हुए हैं. उनमें मध्य प्रदेश की 28, गुजरात की आठ, उत्तर प्रदेश की सात, मणिपुर की चार, कर्नाटक, ओडिशा, झारखंड और नागालैंड की दो-दो सीटें तथा छत्तीसगढ़, तेलंगाना और हरियाणा की एक-एक सीट पर भी उपचुनाव हुए हैं. दरअसल, मणिपुर में पांच विधानसभा सीटों पर उपचुनाव की घोषणा की गई थी, लेकिन सिंघाट सीट पर भारतीय जनता पार्टी (BJP) के प्रत्याशी जिनसुआनहाऊ ज़ोऊ को 23 अक्टूबर को निर्विरोध निर्वाचित कर दिया गया था, जब उनके प्रतिद्वंद्वी निर्दलीय प्रत्याशी ने नामांकन वापस ले लिया. इनके अलावा, बिहार की वाल्मीकि नगर लोकसभा सीट पर भी 7 नवंबर को उपचुनाव हुए हैं. यह सीट JDU सांसद वैद्यनाथ महतो के निधन से खाली हुई थी.


मध्यप्रदेश: एग्जिट पोल के अनुमान आने के बाद सीएम चौहान पार्टी नेताओं से मिले
 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


मध्य प्रदेश में 28 सीटों पर उपचुनाव हुए हैं. ये चुनाव राज्य की शिवराज सिंह चौहान सरकार के लिए बेहद अहम है. इसके नतीजे पर चौहान सरकार टिकी है. उसे विधानसभा में बहुमत के लिए कम से कम नौ सीटों पर जीत दर्ज करनी होगी. फिलहाल 230  सदस्यों वाली एमपी असेंबली में भाजपा के 105 विधायक हैं. बहुमत के लिए 116 की जरूरत है. इसके अलावा यह उप चुनाव राज्य में ज्योतिरादित्य सिंधिया की भी सियासी किस्मत का फैसला करेगा.

विधानसभा (58 सीटें) तथा लोकसभा (1 सीट) उपचुनाव, 2020
राज्यविधानसभा सीट / सीटें
मध्य प्रदेश (28 सीटें)जौरा, सुमावली, मुरैना, दिमनी, अंबाह, मेहगांव, गोहद, ग्वालियर, ग्वालियर पूर्व, डबरा, भाण्डेर, करेरा, पोहरी, बमोरी, अशोक नगर, मुंगावली, सुरखी, मल्हारा (मलेहरा), अनूपपुर, सांची, ब्यावरा, आगर, हाटपिपलिया, मांधाता, नेपानगर, बदनावर, सांवेर, सुवासरा
गुजरात (8 सीटें)अबदासा, लिम्बड़ी, मोरबी, धारी, गढड़ा, करजण, डांग, कपराड़ा
उत्तर प्रदेश (7 सीटें)नौगांवा सादात, बुलंदशहर, टुंडला, बांगरमऊ, घाटमपुर, देवरिया, मल्हानी
मणिपुर (4 सीटें)लिलोंग, वांगजिंग तेंथा, सैतू, वांगोई (राज्य की पांचवीं विधानसभा सीट सिंघाट में भारतीय जनता पार्टी (BJP) के प्रत्याशी जिनसुआनहाऊ ज़ोऊ को 23 अक्टूबर को उपचुनाव में निर्विरोध निर्वाचित कर दिया गया था)
कर्नाटक (2 सीटें)सीरा, राजराजेश्वरीनगर
ओडिशा (2 सीटें)बालासोर, तिरतोल
झारखंड (2 सीटें)दुमका, बेरमो
नागालैंड (2 सीटें)दक्षिणी अन्गामी, पुंगरो-किफिरे
छत्तीसगढ़ (1 सीट)मरवाही
तेलंगाना (1 सीट)दुब्बक
हरियाणा (1 सीट)बरोदा
राज्यलोकसभा सीट
बिहार (1 सीट)वाल्मीकि नगर