Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
NDTV Khabar

क्या राहुल गांधी होंगे महागठबंधन का चेहरा? NDTV ने पूछा विपक्षी दलों से सवाल, जानें- क्या है उनकी राय

विधानसभा चुनाव में कांग्रेस की जीत के बाद महागठबंधन पर भी चर्चा होना शुरू हो गई. इसके बाद सवाल उठने लगा कि क्या राहुल गांधी महागठबंधन का चेहरा होंगे?

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
क्या राहुल गांधी होंगे महागठबंधन का चेहरा? NDTV ने पूछा विपक्षी दलों से सवाल, जानें- क्या है उनकी राय

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी( File Photo)

खास बातें

  1. चुनाव नतीजे के बाद महागठबंधन पर चर्चा
  2. राहुल गांधी के नेतृत्व पर पूछा गया सवाल
  3. विपक्षी दलों ने नहीं दिया कोई स्पष्ट जवाब
नई दिल्ली:

मध्य प्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव में कांग्रेस की जीत के बाद महागठबंधन पर भी चर्चा होना शुरू हो गई. इसके बाद सवाल उठने लगा कि क्या कांग्रेस अध्यक्ष  राहुल गांधी महागठबंधन का चेहरा होंगे? क्या राहुल गांधी के नेतृत्व में साल 2019 के लोकसभा चुनाव में विपक्षी दल पीएम नरेंद्र मोदी सरकार को टक्कर देंगे? ऐसे सवालों के जवाब जानने के लिए एनडीटीवी ने विपक्षी दलों के नेताओं से बातचीत की. हम आपको बता रहे हैं कि विपक्षी दलों की महागठबंधन के चेहरे पर क्या राय है?

तृणमूल कांग्रेस (TMC) नेता दिनेश त्रिवेदी ने इस सवाल पर NDTV से कहा, 'चेहरा तो जनता है. अगर हम चेहरे पर जाएंगे, तो जनता को भूल जाएंगे. जनता जो चेहरा तय करेगी, वही चेहरा रहेगा.' दिनेश त्रिवेदी ने यह भी कहा कि किसी को भी चुनाव जीतने के बाद घमंड नहीं करना चाहिए.


एमपी: BSP-SP के बाद 4 निर्दलीयों ने थामा कांग्रेस का हाथ, आंकड़ा पहुंचा बहुमत के पार

आम आदमी पार्टी (AAP) सांसद संजय सिंह ने इसी सवाल पर कहा, 'इस पर अभी व्यापक चर्चा की जरूरत है. चर्चा में जो बातें निकलकर आएंगी, तो देखा जाएगा. विपक्ष को 2019 में BJP-मुक्त भारत बनाने के लिए काम करना होगा. विपक्ष को राज्यवार रणनीति बनानी होगी - जैसे दिल्ली में AAP सबसे मज़बूत है, बंगाल में TMC, तमिलनाडु में द्रविड़ मुनेत्र कषगम (DMK) और उत्तर प्रदेश में SP-BSP.'

राष्ट्रीय जनता दल (RJD) सांसद मनोज झा ने कहा, 'जब हम चेहरे की बात करते हैं, तो हम अपने लोकतंत्र को छोटा करते हैं. RJD का रुख है कि सामूहिकता के आधार पर चुनाव लड़ा जाना चाहिए. किसी व्यक्ति के इर्द-गिर्द राजनीति नहीं होनी चाहिए.'

मायावती ने पहले कांग्रेस को फटकारा, फिर समर्थन देने का किया एलान, कहा- भाजपा को सत्ता से दूर रखना है

AIUDF नेता तथा लोकसभा सांसद बदरुद्दीन अजमल ने NDTV से बातचीत में कहा, '(कांग्रेस अध्यक्ष) राहुल गांधी अब विपक्ष की एकता का चेहरा बन गए हैं. अब विपक्षी दलों के पास कोई विकल्प भी नहीं है. अब राहुल गांधी को विपक्ष का नेतृत्व करना होगा. BSP प्रमुख मायावती और समाजवादी पार्टी (SP) ने मध्य प्रदेश में कांग्रेस को समर्थन देने का फैसला किया है."

कांग्रेस के दीपेंद्र हुड्डा ने कहा, '2019 के लोकसभा चुनाव में विपक्ष का चेहरा कौन होगा यह महागठबंधन में तय होगा. लेकिन हमारे नेता राहुल गांधी हैं. हम उनके नेतृत्व में मोदी सरकार को उखाड़ फेकेंगे.

'मामा' शिवराज सिंह चौहान को सत्ता से बेदखल करने में कांग्रेस को आया पसीना, ये रहे कारण..

बता दें, छत्तीसगढ़ में कांग्रेस को स्पष्ट बहुमत मिला है. छत्तीसगढ़ में कांग्रेस को 90 में से 68 सीटें मिली हैं. वहीं राजस्थान में 200 में से 99 और मध्य प्रदेश में 230 में से 114 सीटें मिली हैं. राजस्थान और मध्य प्रदेश दोनों में कांग्रेस सरकार बनाने जा रही है.

टिप्पणियां

ससुर ने कहा अभी जीत का ड्रम न बजाओ तो सचिन पायलट ने दिया ऐसा जवाब कि फारूक अब्दुल्ला बोले- बहुत अच्छे

मध्य प्रदेश में मायावती का कांग्रेस को समर्थन देने का एलान



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... बॉलीवुड एक्टर ने फिर साधा सलमान खान पर निशाना, कहा-लोग आपसे ज्यादा मुझ पर विश्वास करते हैं

Advertisement