NDTV Khabar

Atal Bihari Vajpayee: अटल बिहारी वाजपेयी से जुड़ी ऐसी बातें जो शायद ही आप जानते हों, जानें उनकी 11 खास बातें...

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
Atal Bihari Vajpayee: अटल बिहारी वाजपेयी से जुड़ी ऐसी बातें जो शायद ही आप जानते हों, जानें उनकी 11 खास बातें...

पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी (Atal Bihari Vajpayee) की खात बातें...

नई दिल्ली: Atal Bihari Vajpayee Death Anniversary: भारतीय जनता पार्टी के संस्थापक सदस्य, भारत रत्न और पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय अटल बिहारी वाजपेयी (Atal Bihari Vajpayee) की आज पहली पुण्यतिथि है. एक साल पहले आज ही के दिन यानी 16 अगस्त, 2018 को भारत रत्न एवं पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का 93 वर्ष की आयु में निधन हो गया था. उनके निधन के बाद भारतीय जनता पार्टी ने उनकी अस्थियों को देश की 100 नदियों में प्रवाहित किया था और इसकी शुरुआत हरिद्वार में गंगा में विसर्जन के साथ हुई थी. भारत रत्न अटल बिहारी वाजपेयी की पहली पुण्यतिथि के मौके पर उनके स्मारक सदैव अटल पर श्रद्धांजलि दी गई. राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह समेत बीजेपी के तमाम बड़े नेताओं ने अटल जी को श्रद्धांजलि दी...
अटल बिहारी वाजपेयी की खास बातें...
  1. पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी (Atal Bihari Vajpayee) और लालकृष्ण आडवाणी ने भारतीय जनता पार्टी की स्थापना की थी. इसके बाद तो भारतीय राजनीति में ये दोनों एक नाम हो गये 'अटल-आडवाणी'. लेकिन ऐसा नहीं है कि बीजेपी की स्थापना के समय ही दोनों साथ आये थे.
  2. अटल बिहारी वाजपेयी (Atal Bihari Vajpayee) लता मंगेशकर के पारिवारिक दोस्त रहे हैं, और लता मंगेशकर ने उनसे जुड़ा राज यतींद्र मिश्र की किताब 'लता सुरगाथा' में शेयर किया है.
  3. किसी भी विषय पर धाराप्रवाह बोलने की उनकी क्षमता का हर कोई मुरीद था. पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी हों या उनके पुत्र और देश के सबसे युवा प्रधानमंत्री राजीव गांधी...सबसे अटलजी को खूब आदर मिला.
  4. अटल बिहारी वाजपेयी (Atal Bihari Vajpayee) उन चुनिंदा नेताओं में शुमार हैं जिनकी स्वीकार्यता सभी सियासी दलों में है. इसकी सबसे बड़ी वजह यह है कि अटल जी राजनीति में शुचिता और पारदर्शिता के समर्थक थे. 
  5. अटल बिहारी वाजपेयी के दिल में राजनेता के साथ एक कवि भी बसता था. 'हार नहीं मानूंगा, रार नहीं ठानूंगा, काल के कपाल पर लिखता मिटाता हूं, गीत नया गाता हूं'. उनकी लोकप्रिय कविताओं में से एक है.
  6. बताया जाता है कि पूर्व प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू ने अटल बिहारी वाजपेयी से प्रभावित होकर एक बार कहा था कि वो एक दिन देश के प्रधानमंत्री जरूर बनेंगे. बाद में जाकर उनकी यह बात सच साबित हुई.
  7. अटल बिहारी वाजपेयी को प्रकृति से भी काफी लगाव था. उन्हें पहाड़ पर छुट्टी बिताना काफी अच्छा लगता. हिमाचल का मनाली उनकी पसंदीदा जगहों में शामिल था. 
  8. अटल बिहारी वाजपेयी ने अपने पिता के साथ-साथ कानपुर में एल.एल.बी. की पढ़ाई आरंभ की, लेकिन पढ़ाई को बीच में ही छोड़ संघ के कार्य में पूरी निष्ठा के साथ जुट गए.
  9. वाजपेयी सरकार ने 11 और 13 मई 1949 को पोखरण में 5 भूमिमत परमाणु विस्फोट करके भारत को परमाणु शक्ति संपन्न देश घोषित कर दिया था.
  10. अटल बिहारी वाजपेयी को 2014 में देश के सर्वोच्च सम्मान भारत रत्न से सम्मानित किया गया था. वो पहली बार 1996 में प्रधानमंत्री बने और उनकी सरकार सिर्फ 13 दिनों तक ही चल पाई थी. 
  11. पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी साल 1998 में दूसरी बार प्रधानमंत्री बने, तब उनकी सरकार 13 महीने तक चली थी. 1999 में वो तीसरी बार प्रधानमंत्री बने और 5 सालों का कार्यकाल पूरा किया.



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
टिप्पणियां

Advertisement