NDTV Khabar

Atal Bihari Vajpayee Death: अमित शाह बोले, वाजपेयी ने भारतीय राजनीति में भाजपा को वटवृक्ष के रूप में बदला

अमित शाह ने अटल बिहारी वाजपेयी (Atal Bihari Vajpayee Death) को श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए कहा कि उन्होंने अपने तप और अथक परिश्रम से पार्टी को सींचकर एक वटवृक्ष बनाया.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
Atal Bihari Vajpayee Death: अमित शाह बोले, वाजपेयी ने भारतीय राजनीति में भाजपा को वटवृक्ष के रूप में बदला

बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी को दी श्रद्धांजलि.

नई दिल्ली:

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी (Atal Bihari Vajpayee Death) को श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए कहा कि उन्होंने अपने तप और अथक परिश्रम से पार्टी को सींचकर एक वटवृक्ष बनाया और भारतीय राजनीति में अमिट छाप छोड़ी. बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने ट्वीट किया, 'अटलजी एक ऐसे लोकप्रिय राष्ट्रीय नेता के रूप में उभरे थे जिनका मानना था कि सत्ता सेवा का साधन है और राष्ट्रीय हितों से समझौता किये बगैर उनका राजनीतिक जीवन बेदाग रहा और इसलिए लोगों ने राजनीतिक तथा सामाजिक सीमाओं से परे हटकर उनके प्रति प्यार और सम्मान दिखाया.'
 
यह भी पढ़ें :  जब भरी संसद में अटल जी ने ललकारा था- मैं मौत से नहीं डरता, डरता हूं तो सिर्फ...
 


पूर्व प्रधानमंत्री को देश के अति लोकप्रिय भारतीय नेताओं में से एक बताते हुए शाह ने कहा कि वाजपेयी ने भारतीय जनता पार्टी के संस्थापक अध्यक्ष के रूप में अपने तप और अथक परिश्रम से देश की राजनीति में एक वटवृक्ष को सींचा. भाजपा प्रमुख ने कहा, 'एक महान राजनेता, शानदार वक्ता, कवि और देशभक्त का निधन न केवल भाजपा के लिए बल्कि पूरे देश के लिए अपूरणीय क्षति है.'

यह भी पढ़ें :  देश के इस स्टेशन पर पहली बार मिले दोनों, और भारतीय राजनीति में बन गये एक नाम 'अटल-आडवाणी'
 


उन्होंने कहा कि उनकी सोच, कविताएं, दूरदर्शिता और राजनीतिक कौशल हमेशा सभी का मार्गदर्शन करेगा. शाह ने कहा, 'एक तरफ तो अटलजी ने विपक्ष की पार्टी के प्रमुख के रूप में एक आदर्श विपक्ष की भूमिका निभाई वहीं दूसरी ओर उन्होंने प्रधानमंत्री के रूप में देश को निर्णायक नेतृत्व उपलब्ध कराया.' भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि वाजपेयी ने अपने विचारों और सिद्धांतों से भारतीय राजनीति में एक अमिट छाप छोड़ी. उन्होंने उनकी आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना की.

VIDEO : अटल बिहारी वाजपेयी का निधन

टिप्पणियां

बता दें कि भारतीय राजनीति के अजातशत्रु कहे जाने वाले बीजेपी नेता और पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का दिल्ली के अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (AIIMS) में गुरुवार को निधन हो गया. वह बीते 11 जून से एम्स में भर्ती थे. वाजपेयी ने गुरुवार शाम 5:05 बजे अंतिम सांस ली. बुधवार को उनकी हालत गंभीर हो गई और उन्हें जीवन रक्षक प्रणाली पर रखा गया था. वाजपेयी को गुर्दा (किडनी) की नली में संक्रमण, छाती में जकड़न, मूत्रनली में संक्रमण आदि के बाद 11 जून को एम्स में भर्ती कराया गया था. मधुमेह पीड़ित 93 वर्षीय भाजपा नेता का एक ही गुर्दा काम करता था.

(इनपुट: भाषा)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement