पूर्वांचल के दो 'बाहुबलियों' के खिलाफ यूपी सरकार ने की कार्रवाई, अवैध संपत्ति ध्‍वस्‍त की..

इलाहाबाद में सबसे पहले बुलडोजर अतीक अहमद (Ateeq Ahmad)के ऑफिस में चला जिसके तीन हिस्से को अवैध बताते हुवे प्रयागराज विकास प्राधिकरण ने ध्वस्त किया.

पूर्वांचल के दो 'बाहुबलियों' के खिलाफ यूपी सरकार ने की कार्रवाई, अवैध संपत्ति ध्‍वस्‍त की..

इलाहाबाद में अतीक अहमद के अवैध निर्माण के खिलाफ कार्रवाई की गई (फाइल फोटो)

वाराणसी :

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh)में कानून व्यवस्था को लेकर लगातार रहे सवालों के बीच बदमाशों से सख्ती से निपटने की छवि को बनाने के लिये सरकार अब पूर्वांचल के दो माफियाओं पर कड़ी कार्रवाई कर रही है. इसमें एक गुजरात जेल में बंद इलाहाबाद के बाहुबली अतीक अहमद हैं तो दूसरे पंजाब जेल में बंद गाज़ीपुर के बाहुबली मुख्तार अंसारी (Mukhtar ansari). अब तक की सबसे बड़ी कार्रवाई करते हुवे सरकार ने इन दोनों माफियाओं के घर, ऑफिस और व्यावसायिक भवनों को ध्वस्त किया है. इलाहाबाद में सबसे पहले बुलडोजर अतीक अहमद (Ateeq Ahmad)के ऑफिस में चला जिसके तीन हिस्से को अवैध बताते हुवे प्रयागराज विकास प्राधिकरण ने ध्वस्त किया. उसके बाद से अब तक प्रयागराज विकास प्राधिकरण ने अतीक के मकान, कार्यालय समेत दस भवनों का 'ध्वस्त' कर चुका है. इस कार्रवाई में पुलिस और जिला प्रशासन भी शामिल रहा है.

विधायक मुख्‍तार अंसारी, गैंगस्‍टर मुन्‍ना बजरंगी, मिराज और इफ्तिखार मकोका से बरी

पीडीए की कार्रवाई में आधा दर्जन अधिकारी, प्रवर्तन दल की पूरी टीम के साथ पचास की संख्या में पुलिसकर्मी मौजूद रहते हैं. हर कार्रवाई में चार से छह जेसीबी का इस्तेमाल किया जाता है. अतीक का मकान और कार्यालय खाली कराने में 70 से ज्यादा मजदूर लगाए गए थे. अतीक और उसके भाई पूर्व विधायक अशरफ के खिलाफ मंगलवार को प्रयागराज विकास प्राधिकरण ने पुलिस प्रशासन के साथ मिलकर अब तक की सबसे बड़ी कार्रवाई की थी. चकिया स्थित अतीक अहमद के पुश्तैनी मकान को पोकलैंड और जेसीबी लगाकर गिरवा दिया गया था. तकरीबन 5:30 घंटे में उनका किले जैसा मकान जमींदोज कर दिया गया. इसी तरह बीते 90 दिनों में मुख्तार अंसारी गिरोह के विरुद्ध मऊ से लखनऊ तक कार्रवाई का जो दौर शुरू हुआ तो गैंग का लगभग 100 करोड़ रुपयों का आर्थिक साम्राज्य तहस-नहस हो गया. इस दौरान पुलिस ने कार्रवाई करते हुए गैंग से जुड़े लोगों की नामी-बेनामी संपत्तियों को जब्‍त किया, तो अनेक अवैध निर्माण ढहा दिए गए, कई शापिंग मॉल कांपलेक्स, मछली कारोबार, अवैध वसूली गैंग, कोयला व्यवसाय आदि पर नकेल कसते हुए सील कर दिया. 

पूर्व सांसद और बाहुबली अतीक अहमद के घर और दफ्तर पर CBI ने की छापेमारी

अकेले मऊ में देखा जाय तो अब तक मुख्तार अंसारी गैंग से जुड़े आधा दर्जन लोगों की अपराध से अर्जित 21.04 करोड़ संपत्तियों को पुलिस प्रशासन ने जब्त कर लिया तो नगर के पठानटोला में स्थित उसके गुर्गे का लगभग 40 लाख रुपये कीमत का अवैध स्लाटर हाउस बुलडोजर लगाकर ध्वस्त कर दिया और उसकी लाखों की जमीन जब्त कर ली. मुख्तार अंसारी की पत्नी और सालों के नाम रैनी गांव में बने एफसीआइ के गोदाम की चहारदीवारी के कब्जे से 22 लाख रुपये की सरकारी भूमि मुक्त कराई. त्रिदेव कंस्ट्रक्शन के उमेश ङ्क्षसह द्वारा संचालित भीटी का सिटी मॉल लगभग साढ़े छह करोड़ का सिटी मॉल जब्त कर लिया तो उस मॉल से होने वाली लगभग 2.00 करोड़ रुपये की वार्षिक आय से भी गैंग को हाथ धोना पड़ा. मछली माफिया पारसनाथ सोनकर की 8.17 करोड़ की संपत्ति जब्त की तो लगभग 16 लाख रुपये की मछली भी. 

जिले में गुर्गों पर कहर

94 पर गैंगस्टर

26 शस्त्र लाइसेंस निरस्त

21 शस्त्र लाइसेंस निलंबित

12 जिला बदर

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

उत्तर प्रदेश में अब स्पेशल सिक्योरिटी फोर्स