NDTV Khabar

खड़गपुर में तृणमूल कार्यालय पर हमले में पार्षद के पति और उसके दोस्त की मौत...

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
खड़गपुर में तृणमूल कार्यालय पर हमले में पार्षद के पति और उसके दोस्त की मौत...

प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर...

खास बातें

  1. इस घटना में तीन अन्‍य लोग भी गोलियां लगने से घायल.
  2. पुलिस को 'सावधानीपूर्वक' घटना की जांच करने के लिए कहा गया- सुब्रत बख्शी
  3. इस हमले में पार्षद बाल-बाल बच गईं.
कोलकाता: खड़गपुर में अज्ञात हमलावरों द्वारा बुधवार दोपहर को तृणमूल कांग्रेस कार्यालय के अंदर की गई गोलीबारी में पार्टी की एक पार्षद के पति और उसके मित्र की मौत हो गई. पार्षद पूजा नायडू के पति श्रीनिवास नायडू और उसके दोस्‍त धर्मा राव को सड़क के रास्‍ते तीन घंटे के सफर के बाद कोलकाता के एक अस्‍पताल ले जाए जाने पर मृत घोषित कर दिया गया.

इस घटना में तीन अन्‍य भी सिर और छाती में गोलियां लगने से घायल हुए हैं, जिन्‍हें स्‍थानीय अस्‍पताल में भर्ती कराया गया है.

श्रीनिवास नायडू, जिन्‍हें श्रीनू के नाम से जाना जाता था, अपनी पत्‍नी पूजा (जोकि वार्ड-18 से पार्षद हैं) के दफ्तर में थे, उसी दौरान अज्ञात हमलावरों का एक समूह दोपहर करीब ढाई बजे वहां पहुंचा. खड़गपुर के बाहरी इलाके में स्थित कार्यालय पहुंचे इन लोगों ने बम फेंका, खुलेआम फायरिंग की और कुछ मिनटों में फरार हो गए. इस हमले में पार्षद बाल-बाल बच गईं.

कुछ पुलिस सूत्रों के अनुसार, यह घटना एक गैंगवार प्रतीत होती है, क्‍योंकि बिजनेसमैन श्रीनिवास नायडू जोकि रेलवे के साथ काफी कामों से जुड़े हैं, माना जाता है कि मामला अंडरवर्ल्‍ड कनेक्‍शन से जुड़ा हो सकता है.

टिप्पणियां
इस घटना के बाद घंटे भर में राजनीतिक आक्रोश फूट पड़ा. खड़गपुर से विधायक दिलीप घोष भाजपा के राज्य प्रमुख हैं.

तृणमूल सांसद सुब्रत बख्शी ने कहा कि पुलिस को "सावधानीपूर्वक" इस घटना की जांच करने के लिए कहा गया है. उन्‍होंने आगे कहा कि जो व्यक्ति यहां से विधानसभा चुनाव जीता है, वह न केवल खड़गपुर बल्कि बंगाल में अपना अपना वर्चस्व स्थापित करने के लिए बाहुबल दिखा रहा है.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement