कारों के बाजार में तेज गिरावट का सिलसिला अगस्त में भी जारी: मारुति की बिक्री 33 प्रतिशत घटी

देश की सबसे बड़ी कार कंपनी मारुति सुजुकी इंडिया की बिक्री अगस्त महीने में 32.7 प्रतिशत घटकर 1,06,413 वाहन रह गई

कारों के बाजार में तेज गिरावट का सिलसिला अगस्त में भी जारी: मारुति की बिक्री 33 प्रतिशत घटी

प्रतीकात्मक फोटो

नई दिल्ली:

देश के वाहन उद्योग में गिरावट को सिलसिला जारी है और अगस्त में भी मारुति सुजुकी इंडिया, हुंदै, महिंद्रा एंड महिंद्रा, टाटा मोटर्स और होंडा सहित सभी प्रमुख वाहन निर्माताओं ने बिक्री में भारी गिरावट की सूचना दी है. देश की सबसे बड़ी कार कंपनी मारुति सुजुकी इंडिया की बिक्री अगस्त महीने में 32.7 प्रतिशत घटकर 1,06,413 वाहन रह गई. इससे पिछले साल के समान महीने में कंपनी की बिक्री 1,58,189 इकाई रही थी. कंपनी ने बयान में कहा कि अगस्त में उसकी घरेलू बाजार में बिक्री 34.3 प्रतिशत घटकर 97,061 इकाई रह गई, जो अगस्त, 2018 में 1,47,700 इकाई थी. इसी तरह होंडा कार्स इंडिया और टोयोटा किर्लोस्कर मोटर ने बिक्री में क्रमशः 51 प्रतिशत एवं 21 प्रतिशत की गिरावट की सूचना दी है. घरेलू क्षेत्र की प्रमुख वाहन कंपनी टाटा मोटर्स के यात्री वाहनों की घरेलू बिक्री अगस्त में 58 प्रतिशत तक लुढ़क गयी. कंपनी ने पिछले 7,316 वाहनों की  बिक्री की. 

ऑटोमोबाइल सेक्टर की मंदी ने ले ली लाखों नौकरियां, फरीदाबाद और गुरुग्राम में हालत खस्ता

कंपनी ने पिछले साल अगस्त में 17,351 वाहनों की बिक्री की थी. बिक्री आंकड़ों पर टाटा मोटर्स के यात्री वाहन कारोबार के अध्यक्ष मयंक पारीक ने कहा कि बाजार में परिस्थितियां चुनौतीपूर्ण बनी हुई हैं लेकिन कंपनी खुदरा बिक्री को बेहतर करने की दिशा में काम कर रही है. उन्होंने कहा कि खुदरा बिक्री में 42 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गयी है. महिंद्रा एंड महिंद्रा की कुल बिक्री घटकर अगस्त में 36,085 इकाइयों पर रही. कंपनी ने पिछले साल अगस्त में 48,324 इकाई बेचे थे. हुंदै मोटर इंडिया लिमिटेड की अगस्त में कुल बिक्री 9.54 प्रतिशत घटकर 56,005 वाहन रही. पिछले साल इसी अवधि में यह बिक्री 61,912 वाहन थी. कंपनी ने एक बयान में बताया कि समीक्षावधि में उसकी घरेलू बिक्री 16.58 प्रतिशत घटकर 38,205 वाहन रही. इससे पिछले वित्त वर्ष की इसी अवधि में 45,801 वाहन थी. 

अर्थव्यवस्था की रफ़्तार में आई गिरावट से निपटने के लिए उद्योगों ने मांगा एक लाख करोड़ का पैकेज

होंडा कार्स इंडिया लि.(एचसीआईएल) की घरेलू बिक्री अगस्त महीने में 51.28 प्रतिशत घटकर 8,291 इकाई रह गई, जो एक साल पहले समान महीने में 17,020 इकाई थी. माह के दौरान कंपनी ने 227 वाहनों का निर्यात भी किया. एचसीआईएल के वरिष्ठ उपाध्यक्ष एवं निदेशक बिक्री एवं विपणन राजेश गोयल ने कहा कि उपभोक्ता धारणा कमजोर पड़ने से वाहन क्षेत्र में भारी गिरावट आई है. उन्होंने कहा कि यह स्थिति तब है जबकि वाहन क्षेत्र में ऊंची छूट दी जा रही है और यह कार खरीदने का अच्छा समय है. टोयोटा किर्लोस्कर मोटर के वाहनों की बिक्री अगस्त में 21 प्रतिशत की गिरावट के साथ 11,544 इकाइयों पर रही. टोयोटा किर्लोस्कर मोटर (टीकेएम) ने बयान जारी कर कहा है कि पिछले साल अगस्त में उसने 14,581 वाहनों की बिक्री की थी. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

सबसे बुरे दौर से गुजर रहा है भारतीय ऑटो सेक्टर, 4 महीने में चली गईं 3.5 लाख नौकरियां

टीकेएम की घरेलू बिक्री अगस्त में 24 प्रतिशत की गिरावट के साथ 10,701 इकाइयों पर रही. कंपनी ने अगस्त, 2018 में 14,100 वाहनों की बिक्री की थी. एमजी मोटर इंडिया ने रविवार को कहा कि अगस्त में उसने 2,018 वाहनों की खुदरा बिक्री की. कंपनी ने इस साल जुलाई में 1,508 इकाइयों की बिक्री की थी. एमजी मोटर इंडिया के मुख्य वाणिज्यिक अधिकारी गौरव गुप्ता ने बयान में कहा है, 'ग्राहकों को पूरी तरह संतुष्ट करने की हमारी प्रतिबद्धता के तहत हमारा ध्यान मुख्य रूप से 28,000 बुकिंग को पूरा करने पर है.' दुपहिया वाहन श्रेणी की बात करें तो हीरो मोटो कॉर्प ने पिछले अगस्त की तुलना में इस साल इसी महीने में डेढ़ प्रतिशत अधिक वाहनों की बिक्री की है. कंपनी ने आलोच्य माह में 5,43,406 वाहनों की बिक्री की.  कंपनी ने पिछले साल अगस्त में 5,35,810 दुपहिया वाहन बेचे थे.