NDTV Khabar

अयोध्या राम जन्मभूमि न्यास के अध्यक्ष महंत नृत्य गोपाल दास ने दी PM मोदी को चेतावनी, बोले- राममंदिर न बनवाना होगा घातक

अयोध्या राम जन्मभूमि न्यास के अध्यक्ष महंत नृत्य गोपाल दास ने कहा है कि अगर राम मंदिर नहीं बना तो मोदी सरकार के लिए बहुत घातक साबित होगा.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
अयोध्या राम जन्मभूमि न्यास के अध्यक्ष महंत नृत्य गोपाल दास ने दी PM मोदी को चेतावनी, बोले- राममंदिर न बनवाना होगा घातक

प्रतीकात्मक तस्वीर.

खास बातें

  1. अयोध्या राम जन्मभूमि ट्रस्ट के अध्यक्ष का पीएम मोदी पर हमला
  2. मंहत नृत्यगोपाल दास बोले- बनना चाहिए राम मंदिर
  3. दी चेतावनी- अगर मंदिर नहीं बना तो मोदी सरकार के लिए होगा घातक
नई दिल्ली:

अयोध्या राम जन्मभूमि न्यास के अध्यक्ष महंत नृत्य गोपाल दास ने राम मंदिर को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को चेतावनी दी है. उन्होंने इस मुद्दे पर बड़ा बयान दिया है. महंत नृत्य गोपाल दास ने अलीगढ़ में कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने कार्यकाल में जल्द राम मंदिर का निर्माण नहीं कराया तो यह बीजेपी और मोदी के लिए घातक होगा, आने वाले चुनाव में जनता उन्हें नकार देगी.अलीगढ़ में पत्रकारों से बातचीत के दौरान उन्होंने कहा "मोदी के सामने राष्ट्र के साथ-साथ और भी समस्याएं हैं. मोदी अपना और पार्टी का कल्याण चाहते हैं तो जल्द से जल्द राम मंदिर का निर्माण कार्य प्रारंभ कर दें तो उनका भी भला है और पार्टी का भी भला है. रामजी के राज में देर है अंधेर नहीं." 

BJP की सहयोगी बोली- भगवान राम सबसे सम्मानित देवता, तो फिर मंदिर क्यों नहीं बनना चाहिए?


महंत ने आगे कहा, "हम मोदी-योगी की सरकार से कहते हैं, आपको शासन के लिए ही नहीं, मंदिर निर्माण के लिए भी भेजा गया है. मंदिर निर्माण करते हैं तो उनका भी भला है पार्टी का भी भला है, यदि मंदिर निर्माण नहीं करते तो उनका भी बंटाधार और पार्टी का भी बंटाधार होगा."

प्रवीण तोगड़िया बोले- बीजेपी ने 500 करोड़ का दिल्ली में भवन बना डाला, मगर रामलला टांट पर बैठे हैं

शिवसेना ने दी बीजेपी को नसीहत
अयोध्या में राम मंदिर का जल्द निर्माण करने की संघ प्रमुख मोहन भागवत की वकालत के दो दिन बाद शिवसेना ने  उनकी प्रतिबद्धता की सराहना की लेकिन इसे मुद्दे को लेकर ‘‘नेताओं’’ पर सवाल उठाए. भाजपा अध्यक्ष अमित शाह पर निशाना साधते हुए शिवसेना ने कहा कि वह भारतीय जनता पार्टी के अगले 50 सालों तक देश पर शासन करने के बारे में पूरे विश्वास से बोलते हैं, लेकिन जम्मू कश्मीर को विशेष दर्जा देने वाली संविधान की धारा 370 को खत्म करने और राम मंदिर के मुद्दों पर टिप्पणी करने से ‘‘बचते’’ हैं. भाजपा के प्रति आलोचनात्मक रूख रखने वाली शिवसेना ने अपनी पार्टी के मुखपत्र ‘सामना’ में नरेंद्र मोदी सरकार से कहा कि वह भागवत के बयान के बाद अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण के मुद्दे को ‘‘गंभीरता’’ से लें. उद्धव ठाकरे के नेतृत्व वाली पार्टी ने हालांकि राय व्यक्त की कि मंदिर मुद्दे को सिर्फ चुनावी वादे तक सीमित कर दिया गया है और इसलिये यह हिंदुत्व का माखौल उड़ाने वाला मुद्दा बन गया है. (इनपुट IANS से)

टिप्पणियां

वीडियो- अयोध्या में राम मंदिर बनकर रहेगा, क्योंकि सुप्रीम कोर्ट हमारा है 
 

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement