NDTV Khabar

रामदेव बोले- दो से ज्यादा बच्चे पैदा करने वालों से छीन लिया जाए वोट डालने का अधिकार

यह पहली बार नहीं है कि रामदेव ने ऐसी टिप्पणी की है. पिछले साल उन्होंने कहा था कि जिनके दो से ज्यादा बच्चे हैं, उनके बच्चे को सरकारी स्कूल में दाखिला नहीं दिया जाना चाहिए, सरकार अस्पताल में ईलाज की सुविधा और सरकारी नौकरी नहीं दी जानी चाहिए.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
रामदेव बोले- दो से ज्यादा बच्चे पैदा करने वालों से छीन लिया जाए वोट डालने का अधिकार

योग गुरु रामदेव. (फाइल तस्वीर)

अलीगढ़:

योग गुरु रामदेव (Ramdev) का मानना है कि एक अरब से अधिक जनसंख्या वाले देश में जनसंख्या को नियंत्रित (Population Control) करना प्राथमिकता होनी चाहिए. बुधवार को यूपी के अलीगढ़ में उन्होंने सलाह दी कि जिसके भी दो से ज्यादा बच्चे हों, उनसे मताधिकार छीन लिया जाए. रामदेव ने कहा, 'जनसंख्या नियंत्रण के लिए जो भी दो से ज्यादा बच्चे पैदा करे, उससे वोट देने का आधिकार, सरकारी नौकरी और ईलाज की सुविधा छीन लेनी चाहिए, चाहें वो हिन्दू हो या मुस्लिम. तभी जनसंख्या नियंत्रित होगी.' यह पहली बार नहीं है कि रामदेव ने ऐसी टिप्पणी की है. पिछले साल उन्होंने कहा था कि जिनके दो से ज्यादा बच्चे हैं, उनके बच्चे को सरकारी स्कूल में दाखिला नहीं दिया जाना चाहिए, सरकार अस्पताल में ईलाज की सुविधा और सरकारी नौकरी नहीं दी जानी चाहिए.

रामदेव ने कहा था कि उनके जैसे लोग जिन्होंने शादी नहीं की उन्हें विशेष सम्मान मिलना चाहिए. उन्होंने पिछले साल एक समारोह में कहा था, 'मैं परिवार के लिए नहीं जीता. मैंने ब्रांड्स बनाए हैं. मैं ऐसे 1000 ब्रांड्स बनाना चाहता हूं, जिससे 2050 तक भारत विश्व में सबसे बड़ी आर्थिक शक्ति बनकर उभरे.'


बाबा रामदेव ने शादी को लेकर कह डाली बड़ी बात, बोले- कभी विवाह न करें क्योंकि...

बता दें, पिछले साल दिसंबर महीने में योगगुरु रामदेव ने कहा था कि वह अभी नहीं कह सकते कि अगला प्रधानमंत्री कौन होगा और कौन देश का नेतृत्व करेगा. रामदेव ने 2014 के पहले नरेंद्र मोदी का खुले तौर पर प्रधानमंत्री पद के लिए समर्थन किया था. उन्होंने कहा था, 'हम नहीं कह सकते कि अगला प्रधानमंत्री कौन होगा या देश का नेतृत्व कौन करेगा. स्थिति बहुत दिलचस्प है. राजनीति में अब कड़े संघर्ष की स्थिति बनी है. मेरी निजी राय है कि मैं किसी व्यक्ति का समर्थन नहीं कर रहा है और न ही मैं किसी पार्टी का विरोध कर रहा हूं.'

अयोध्या मामले पर बाबा रामदेव बोले- अगर राम मंदिर नहीं बना तो लोगों का बीजेपी से उठ जाएगा भरोसा

गौरतलब है कि रामदेव, संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन के शासन के समय लोकपाल आंदोलन व भ्रष्टाचार के खिलाफ अभियान में सिविल सोसाइटी का हिस्सा रहे हैं. बाद में उन्होंने मोदी का प्रधानमंत्री पद के लिए समर्थन किया और उन्होंने कालेधन पर लगाम लगाने के उपायों की मांग की. रामदेव ने नोटबंदी समेत कई मुद्दों पर भी मोदी सरकार का समर्थन किया था.

टिप्पणियां

VIDEO- रामदेव बोले- पता नहीं कौन बनेगा प्रधानमंत्री

 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों, LIVE अपडेट तथा चुनाव कार्यक्रम के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement