बाल खींचने वाले छात्र की मां से बोले बाबुल सुप्रियो, ‘प्रिय चाची, चिंता मत करो...'

केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो (Babul Supriyo) ने जादवपुर विश्वविद्यालय (Jadavpur University) में धक्का-मुक्की के दौरान कथित रूप से उनके बाल खींचने वाले छात्र की मां को शनिवार को आश्वस्त किया कि वह उनके बेटे के करियर को नुकसान नहीं पहुंचाएंगे.

बाल खींचने वाले छात्र की मां से बोले बाबुल सुप्रियो, ‘प्रिय चाची, चिंता मत करो...'

जादवपुर विश्वविद्यालय (Jadavpur University) में बाबुल सुप्रियो के साथ धक्का-मुक्की हुई थी (फाइल फोटो)

कोलकाता :

केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो (Babul Supriyo) ने जादवपुर विश्वविद्यालय (Jadavpur University) में धक्का-मुक्की के दौरान कथित रूप से उनके बाल खींचने वाले छात्र की मां को शनिवार को आश्वस्त किया कि वह उनके बेटे के करियर को नुकसान नहीं पहुंचाएंगे. छात्र देबनजन बल्लव की बीमार मां रूपाली ने सुप्रियो से ‘हाथ जोड़कर' अपने बेटे को माफ करने का अनुरोध किया है, क्योंकि पुलिस के हवाले करने से उनके बेटे का करियर बर्बाद हो जाएगा. सुप्रियो ने शनिवार को ट्विटर पर कहा, ‘प्रिय चाची, चिंता मत करो. मैं ऐसी कोई कार्रवाई नहीं करूंगा जिससे आपके बेटे के करियर को नुकसान पहुंचे.'उन्होंने अपने ट्वीट के साथ महिला के अनुरोध करने वाली खबर की कतरन भी लगाई हुई है. यह महिला बर्द्धमान शहर में रहती हैं. सुप्रियो ने कहा, ‘मैं चाहता हूं कि वह अपनी गलती से सबक सीखे. मैंने कोई प्राथमिकी दर्ज नहीं कराई है और न किसी को यह करने दूंगा. जल्दी ठीक हो जाओ.' 

जादवपुर यूनिवर्सिटी में बाबुल सुप्रियो का घेराव, केंद्रीय मंत्री बोले- 'मेरे बाल खीचें और...'

अखबार की कतरन में रूपाली बल्लव का फोटो है जिसमें उनकी आंखों में आंसू हैं. एक वीडियो में उनका बेटा देबनजन विश्वविद्यालय में मंत्री से बहस करता हुआ और उनके बाल खींचता हुआ दिख रहा है. देबनजन संस्कृत कॉलेज का छात्र है न कि जादवपुर विश्वविद्यालय का. उसने कहा, ‘मैं एनआरसी कवायद को लेकर मंत्री को अपनी चिंता से अवगत कराना चाहता था. यह कवायद करोड़ों लोगों को बेघर कर देगी, लेकिन मंत्री गुस्सा हो गए.' आपको बता दें कि केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो (Babul Supriyo) का जादवपुर विश्वविद्यालय (Jadavpur University) में छात्रों के एक समूह ने घेराव किया था और उन्हें काले झंडे दिखाएथा. बाबुल सुप्रियो अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (ABVP) द्वारा आयोजित एक सेमिनार को संबोधित करने के लिए विश्वविद्यालय आए थे. वामपंथी झुकाव वाले संगठनों-आर्ट फैकल्टी स्टूडेंट्स यूनियन (एएफएसयू) और स्टूडेंट फेडरेशन ऑफ इंडिया (ASFI) के सदस्यों ने शुरुआत में 'बाबुल सुप्रियो वापस जाओ' के नारे लगाते हुए करीब डेढ़ घंटे तक उनको कैंपस में प्रवेश करने से रोका. 

बाबुल सुप्रियो ने ममता बनर्जी पर किया पलटवार, कहा- उनकी एक्सपायरी डेट अब पास में है...

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

वहीं, दूसरी तरफ इस मामले पर पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने कहा था कि बाबुल सुप्रियो का घेराव किया जाना एक गंभीर मुद्दा है. उन्होंने घटना के संबंध में राज्य के मुख्य सचिव को तुरंत कदम उठाने को कहा है. मुख्य सचिव मलय डे ने विश्वविद्यालय के कुलाधिपति राज्यपाल को आश्वस्त किया कि शहर के पुलिस आयुक्त को फौरन मामले पर गौर करने का निर्देश दिया गया है. (भाषा से भी इनपुट)

VIDEO: जादवपुर यूनिवर्सिटी में बाबुल सुप्रियो का विरोध, दिखाये गये काले झंडे



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)