'बदबू गुजरात की' : दलित इस अभियान के तहत अमिताभ बच्चन और पीएम नरेंद्र मोदी को राज्‍य में करेंगे आमंत्रित

'बदबू गुजरात की' : दलित इस अभियान के तहत अमिताभ बच्चन और पीएम नरेंद्र मोदी को राज्‍य में करेंगे आमंत्रित

पीएम नरेंद्र मोदी का फाइल फोटो

खास बातें

  • राज्‍य के 'खुशबू गुजरात कार्यक्रम' का प्रचार करते हैं अमिताभ बच्‍चन
  • इसके जवाब में दलित चलाने जा रहे पोस्‍टकार्ड अभियान
  • मंगलवार से इस अभियान की होगी शुरुआत
अहमदाबाद:

उना में मारपीट की घटना का विरोध कर रहे दलितों ने पर्यटन विभाग की पहल 'खुशबू गुजरात की' के जवाब में 'बदबू गुजरात की' नामक एक पोस्टकार्ड अभियान चलाने का फैसला किया है. 'खुशबू गुजरात की' में अमिताभ बच्चन प्रचार करते हुए नजर आते हैं.

उना दलित अत्याचार लादत समिति मंगलवार को अहमदाबाद के समीप कालोल में यह अभियान शुरू करेगी और 'बदबू गुजरात की' टैगलाइन वाले हजारों पोस्टकार्ड मुंबई  में अमिताभ बच्चन के रिहायशी पते और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को उन्हें राज्य में आने का न्यौता देते हुए भेजे जायेंगे.

उना दलित अत्याचार लादत समिति के संयोजक जिग्नेष मेवानी ने रविवार को कहा कि ये पोस्टकार्ड उन्हें गुजरात आने और मरी हुई गायों की बदबू लेने का न्यौता देते हैं जिन्हें आंदोलनकारी दलितों ने निस्तारित नहीं किया क्योंकि उना की मारपीट की घटना के बाद उन्होंने यह काम नहीं करने का संकल्प लिया.

मेवानी ने कहा कि बच्चन ने मोदी के एजेंडे के प्रचार के लिए गुजरात की छद्म छवि बनायी.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

उन्होंने कहा, ''अमिताभ बच्चन तत्कालीन मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी के निमंत्रण पर आए और उन्होंने हरियाली, सुगंध और प्रगतिशील संस्कृति जैसी अच्छी बातों वाले गुजरात की ही बात की.''

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)