बागपत मामला : सुप्रीम कोर्ट ने दलित परिवार को कोर्ट में पेश होने का आदेश दिया

बागपत मामला :  सुप्रीम कोर्ट ने दलित परिवार को कोर्ट में पेश होने का आदेश दिया

प्रतीकात्मक तस्वीर

बागपत:

उत्तरप्रदेश के बागपत जिले में कथित रूप से बलात्कार का फरमान सुनाए जाने के मामले में सुप्रीम कोर्ट ने दलित परिवार को अदालत में पेश होने को कहा है। साथ ही उच्चतम न्यायालय ने उप्र सरकार को फिलहाल लड़कियों के भाई की गिरफ्तारी न करने का आदेश दिया है। वहीं दलित लड़की ने उप्र पुलिस पर गलत मामला दर्ज करने और मादक पदार्थों के तहत फंसाए जाने का आरोप लगाया है जिस पर उप्र सरकार ने सुप्रीम कोर्ट से जवाब दाख़िल करने की मांग की है।

दरअसल पिछले महीने बागपत जिले की एक दलित लड़की ने सुप्रीम कोर्ट में फरियाद लगाई थी कि गांव के जाटों की खाप पंचायत ने उसका और उसकी बहन के बलात्कार का फरमान सुनाया है। इन लड़कियों के भाई की मित्रता इस गांव के जाट परिवार की लड़की से थी। इस पूरे मामले की जांच हो ही रही थी कि तभी एक नया मोड़ आ गया। दलित लड़के की कथित महिला मित्र ने पुलिस में उल्टे यह शिकायत दर्ज करा दी है कि नौकरी दिलाने के बहाने लड़का उसे दिल्ली ले गया था जहां उसके साथ बलात्कार भी किया गया।

हुआ यूं है कि जुलाई महीने में बागपत जिले का एक दलित लड़का और एक जाट लड़की एक साथ दिल्ली में पाए गए। लड़की शादीशुदा थी। उसके घर वालों ने दलित लड़के पर लड़की को बरगलाने का इल्ज़ाम लगाया। उस वक्त लड़की ने अपने परिवार के बयान के समर्थन में कुछ नहीं कहा इसलिए पुलिस ने लड़के पर अपहरण का मुकादमा दर्ज करने के बजाय उसे नारकोटिक्स एक्ट में जेल भेज दिया।

लड़के की बहन अब सुप्रीम कोर्ट पहुंची है। उसका आरोप है कि बागपत में जाटों की एक खाप पंचायत ने इस घटना से नाराज होकर फरमान सुनाया है कि जाट परिवार के लोग बदला लेने के लिए दलित लड़के की दोनों बहनों के साथ बलात्कार करेंगे। दलित लड़की ने अदालत से सुरक्षा मांगी है। सुप्रीम कोर्ट ने पुलिस को मामले की जांच करके कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं।

Newsbeep

मामले में एक पेंच यह है कि कुछ दिनों बाद दलित लड़के के साथ दिल्ली में पाई गई जाट लड़की ने इसे मोहब्बत का नहीं बल्कि धोखाधड़ी का मामला बताया है। बागपत जिले के एसपी से जाट लड़की ने शिकायत की है कि दलित लड़का उसे बहला-फुसलाकर दिल्ली ले गया था, जहां उसने उसके साथ बलात्कार किया।

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


एसपी ने मामले की जांच के बाद कार्रवाई करने की बात कही है। दूसरी तरफ लड़के के घर के लोग कह रहे हैं कि लड़की झूठ बोल रही है और यह बयान उसने तब क्यों नहीं दिया जब वह दिल्ली से लौटी थी। लड़की का कहना है कि परिवार की इज्जत की खातिर उसने यह वजह पहले किसी को नहीं बताई।