NDTV Khabar

राजस्‍थान की महिलाओं की चेतावनी, 'पद्मावत' पर रोक लगाओ नहीं तो करेंगी जौहर

रविवार शाम को नोएडा में करणी सेना और राजपूत संगठन ने सोमवार को जमकर उत्पात मचाया. दिल्ली को नोएडा से जोड़ने वाले डीएनडी फ्लाईओवर पर तोड़फोड़ की गई.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
राजस्‍थान की महिलाओं की चेतावनी, 'पद्मावत' पर रोक लगाओ नहीं तो करेंगी जौहर

पद्मावत फिल्‍म की रिलीज को लेकर राजस्‍थान की महिलाओं ने दी जौहर की धमकी (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. रैली के दौरान महिलाओं ने फिल्म पर पूर्णतया प्रतिबंध लगाने की मांग की.
  2. महिलाओं का आरोप, फिल्‍म में इतिहास के साथ छेडछाड की गई है.
  3. कुल 1908 महिलाओं ने चित्तौड़गढ़ में जौहर करने के लिए रजिस्‍ट्रर किया
नई दिल्ली: संजय लीला भंसाली की विवादित फिल्म पद्मावत पर पूरी तरह से प्रतिबंध लगाने की मांग को लेकर चित्तौडगढ़ में सैंकडों महिलाओं ने जौहर स्वाभिमान रैली निकाली.  रैली के दौरान कुछ महिलाओं ने हाथों में तलवारें थाम रखी थी और उन्‍होंने कहा कि अगर पद्मावत फिल्‍म पर रोक नहीं लगाई गई तो वह जौहर करेंगी. कुल 1908 महिलाओं ने चित्तौड़गढ़ में जौहर करने के लिए रजिस्‍ट्रर किया है.

Padmaavat: संजय लीला भंसाली ने किया उल्टा वार, करणी सेना को फिल्म देखने के लिए किया इनवाइट

रानी पद्मावती ने चित्तौड किले पर अलाउद्दीन खिलजी के आक्रमण के दौरान आत्मसम्मान की रक्षा के लिये 16 हजार अन्य महिलाओं के साथ जौहर किया था. भंसाली की फिल्म रानी पद्मावती पर आधारित है और राजपूत संगठनों का आरोप है कि इसमें रानी पद्मावती के संबंध में गलत तथ्य पेश किये है तथा इतिहास के साथ छेडछाड की है. रैली के दौरान महिलाओं ने फिल्म पर पूर्णतया प्रतिबंध लगाने की मांग की.

इधर, श्रीराजपूत करणी सेना के अध्यक्ष महिपाल सिंह ने पूर्व राजघरानों से आग्रह किया है कि वे अपने अधीन स्मारक एवं किले फिल्म के प्रतिबंध होने तक पर्यटकों के लिये बंद रखे. रैली चित्तौड किले के जौहर स्थल से शुरू हुई और करीब आठ किलोमीटर पर शहर में जौहर भवन पर समाप्त हुई. इसमें अनेक युवा भी शामिल हुए.

‘पद्मावत’ की रिलीज पर संकट, मध्‍यप्रदेश और राजस्‍थान सरकार SC में दाखिल करेंगी पुनर्विचार याचिका

डीएनडी फ्लाईओवर पर की ताड़फोड़ की 
रविवार शाम को नोएडा में करणी सेना और राजपूत संगठन ने सोमवार को जमकर उत्पात मचाया. दिल्ली को नोएडा से जोड़ने वाले डीएनडी फ्लाईओवर पर तोड़फोड़ की गई. उत्पातियों ने बैरिकेड में आग लगा दी. प्रदर्शनकारियों ने एसपी सिटी के दफ्तर के सामने विरोध प्रदर्शन किया. इस मामले में 13 लोगों को गिरफ्तार किया गया है. 20 लोग नामजद किए गए हैं और 200 अज्ञात लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है. वहीं गुड़गांव में करणी सेना के लोगों ने थिएटर मालिकों को चिट्ठियां बांटी.

टिप्पणियां
गुजरात में बसों का परिचालन रोका 
गुजरात में भी फ़िल्म पद्मावत का विरोध हो रहा है. फ़िल्म के विरोध में करणी सेना ने गुजरात के कई हिस्सों में हंगामा किया है, जिसे देखते हुए गुजरात राज्य परिवहन ने उत्तर गुजरात में बस सेवा रोक दी है. मेहसाणा, पाटन, गांधीनगर, साबरकांठा और बनासकांठा में हालात सुधरने तक बस सेवा बंद की गई है. करीब 100 रास्तों पर बसों का परिचालन रोका गया है. रविवार को कुछ बसों में तोड़फोड़ की गई थी, जिसके बाद राज्य परिवहन ने ये फ़ैसला लिया है. इससे पहले शनिवार को करणी सेना के कार्यकर्ताओं ने राजहंस सिनेमा हॉल के सामने विरोध प्रदर्शन किया.

VIDEO: सुप्रीम कोर्ट ने कहा, 'पद्मावत' सेंसर से पास तो फिर रोक क्यों
 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement