NDTV Khabar

अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद जम्मू-कश्मीर के हालात: 15 दिन बाद श्रीनगर के लाल चौक से हटाए गए बैरिकेड

मोबाइल और इंटरनेट सेवाएं लगातार 16वें दिन बाधित रही जबकि ज्यादातर क्षेत्रों में लैंडलाइन टेलीफोन सेवाएं भी प्रभावित रही.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद जम्मू-कश्मीर के हालात: 15 दिन बाद श्रीनगर के लाल चौक से हटाए गए बैरिकेड

घाटी में बाजार बंद रहे और सार्वजनिक परिवहन भी सड़कों से नदारद रहे.

श्रीनगर:

जम्मू-कश्मीर से धारा 370 हटाए जाने के बाद धीर-धीरे पाबंदिया हट रही हैं. इसी क्रम में श्रीनगर शहर के व्यावसायिक केंद्र लाल चौक पर घंटाघर के आसपास से भी मंगलवार को बैरिकेड हटा लिये गये। 15 दिन बाद यहां लोगों और वाहनों की आवाजाही की अनुमति मिली है. अधिकारियों ने बताया कि सोमवार को खोले गए ज्यादातर प्राथमिक विद्यालयों में कोई छात्र नहीं दिखा लेकिन सरकारी कार्यालयों में कर्मचारियों की उपस्थिति में सुधार हुआ. उन्होंने बताया कि शहर के सिविल लाइन्स क्षेत्रों के कुछ भागों में वाहनों की आवाजाही बढ़ी लेकिन श्रीनगर के निचले इलाकों और कश्मीर घाटी के कई हिस्सों में आवाजाही कम रही.

अधिकारी ने बताया कि कुछ इलाकों में पाबंदियां में छूट दी गई है. हालांकि कुछ स्थानों पर कानून एवं व्यवस्था की स्थिति बनाये रखने के लिए सुरक्षा बलों की तैनाती अभी भी है. 


जम्मू-कश्मीर के हालात को लेकर NSA अजित डोभाल और IB चीफ से मिले गृहमंत्री अमित शाह

घाटी में बाजार बंद रहे और सार्वजनिक परिवहन भी सड़कों से नदारद रहे. मोबाइल और इंटरनेट सेवाएं लगातार 16वें दिन बाधित रही जबकि ज्यादातर क्षेत्रों में लैंडलाइन टेलीफोन सेवाएं भी प्रभावित रही. अधिकारियों ने बताया कि पांच अगस्त को जम्मू कश्मीर को विशेष दर्जा देने वाले अनुच्छेद 370 के ज्यादातर प्रावधानों को हटाये जाने के बाद से स्थिति कुल मिलाकर शांतिपूर्ण बनी हुई है.

टिप्पणियां

हालांकि सरकार ने कहा था कि घाटी के कुछ हिस्सों में युवाओं के समूहों और सुरक्षा बलों के बीच छिटपुट झड़प की खबरें आईं हैं. अधिकारियों का कहना है कि कुछ लोगों के घायल होने की सूचना है लेकिन स्थिति सामान्य हो रही है. 

VIDEO:कश्मीर में ढील, 50 फीसदी लैंडलाइन सेवाएं बहाल



NDTV.in पर विधानसभा चुनाव 2019 (Assembly Elections 2019) के तहत हरियाणा (Haryana) एवं महाराष्ट्र (Maharashtra) में होने जा रहे चुनाव से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरें (Election News in Hindi), LIVE TV कवरेज, वीडियो, फोटो गैलरी तथा अन्य हिन्दी अपडेट (Hindi News) हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement