परमाणु मिसाइल अग्नि 2 का परीक्षण, 2000 किलोमीटर तक दूर तक है मारक क्षमता

आज का परीक्षण सेना की स्ट्रेटेजिक फोर्सेज कमांड (एसएफसी) ने किया. इसके लिये डीआरडीओ ने उसकी मदद की.  बीस मीटर लंबी अग्नि 2 बैलिस्टिक मिसाइल का वजन 17 टन है और यह अपने साथ एक हजार किलो का आयुध 2000 किलोमीटर की दूरी तक ले जा सकती है. 

परमाणु मिसाइल अग्नि 2 का परीक्षण, 2000 किलोमीटर तक दूर तक है मारक क्षमता

फाइल फोटो

नई दिल्ली:

भारत ने आज ओडिशा तट के अब्दुल कलाम द्वीप से परमाणु हथियार ले जाने की क्षमता से युक्त मध्यम दूरी तक मार करने वाली अग्नि 2 मिसाइल का परीक्षण किया. यह प्रक्षेपास्त्र 2000 किलोमीटर तक मार करने में सक्षम है. रक्षा सूत्रों ने कहा कि एकीकृत परीक्षण रेंज (आईटीआर) से सचल प्रक्षेपक से सुबह करीब आठ बजकर 38 मिनट पर सतह से सतह पर मार करने वाले इस प्रक्षेपास्त्र का प्रक्षेपण किया गया. लॉन्च कांप्लेक्स-4 से यह प्रक्षेपण किया गया. उन्होंने कहा कि इंटरमीडिएट रेंज बैलिस्टिक मिसाइल (आईआरबीएम) को पहले ही सेना में शामिल की जा चुकी है. आज का परीक्षण सेना की स्ट्रेटेजिक फोर्सेज कमांड (एसएफसी) ने किया. इसके लिये डीआरडीओ ने उसकी मदद की.  बीस मीटर लंबी अग्नि 2 बैलिस्टिक मिसाइल का वजन 17 टन है और यह अपने साथ एक हजार किलो का आयुध 2000 किलोमीटर की दूरी तक ले जा सकती है. 

ओडिशा के तट से भारत ने बैलिस्टिक मिसाइल अग्नि-5 का सफल परीक्षण किया

इससे पहले 6 फरवरी को स्वदेश निर्मित अग्नि -1 बैलिस्टिक मिसाइल का परीक्षण किया था.  भारतीय सेना के सामरिक बल कमांड ने बालासोर स्थित अब्दुल कलाम द्वीप से इंटीग्रेटेड टेस्ट रेंज (आईटीआर) के लॉन्च पैड-4 से 700 किलोमीटर दूरी की मारक क्षमता वाली मिसाइल का परीक्षण किया गया था.  

वीडियो : अग्नि-6 की तैयारी में भारत

रक्षा सूत्रों ने बताया कि यह अग्नि-1 का 18वां संस्करण है.  रक्षा सूत्रों के अनुसार, सतह से सतह पर मार करने वाली एकल चरण मिसाइल को सैन्य बलों द्वारा नियमित परीक्षण अभ्यास के तहत लॉन्च किया गया है. सूत्रों के मुताबिक, यह परीक्षण सेना द्वारा कम समय में भी इसे प्रक्षेपित करने की तैयारी की पुष्टि करता है. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com