दलित अत्याचार की फिर दो घटनाएं : कर्नाटक और महाराष्ट्र में युवकों की बेरहमी से पिटाई

दलित अत्याचार की फिर दो घटनाएं : कर्नाटक और महाराष्ट्र में युवकों की बेरहमी से पिटाई

खास बातें

  • घटना के बाद से चिकमंगलूर में तनाव बना हुआ है
  • बाइक पर बाबा साहब अंबेडकर की तस्वीर लगी हुई थी
  • माजलगांव के पुलिस थाने में दर्ज कराया गया मामला
नई दिल्ली:

पिछले कुछ दिनों से दलितों पर अत्याचार के मामले लगातार सामने आ रहे हैं। ताज़ा मामला कर्नाटक के चिकमंगलूर और महाराष्ट्र के बीड ज़िले का है। जहां दलितों की पिटाई खबर सामने आई है।

घटना के बाद से चिकमंगलूर में तनाव बना हुआ है
कर्नाटक के चिकमंगलूर जिले के कोप्पा गांव में एक दलित को एक चरमपंथी गुट के कार्यकर्ताओं ने बुरी तरह पीटा। पीटने वाले लोगों का आरोप था कि इस व्यक्ति ने अपने घर में गाय का मांस रखा हुआ था। इस मामले में पुलिस ने कार्रवाई करते हुए सात लोगों को गिरफ़्तार किया है। घटना के बाद से पूरे इलाक़े में तनाव बना हुआ है।

बाइक पर बाबा साहब अंबेडकर की तस्वीर लगी हुई थी
वहीं, दूसरी ओर महाराष्ट्र के बीड में भी 25-30 लोगों के एक गुट पर दो दलित युवकों को पीटने का आरोप लगा है। बताया जा रहा है कि बाइक से मामूली टक्कर लगने के बाद इनकी जमकर पिटाई की गई। खास बात यह है कि इन दलित युवकों की बाइक पर बाबा साहब अंबेडकर की तस्वीर लगी हुई थी और इस तस्वीर को बाइक पर देखने के बाद इन युवकों की जमकर पिटाई की गई।

माजलगांव के पुलिस थाने में दर्ज कराया गया मामला
बीड जिले के माजलगांव तहसील के सावरगांव में यह घटना घटी। बता दें, विडा गांव के 23 वर्षीय आकाश वाघमारे और 22 वर्षीय मयुर लोखंडे अपने बाइक से अपने रिश्तेदारों से मिलने निमगांव जा रहे थे। इन दोनों को माजलगांव के अस्पताल में इलाज के लिए दाखिल किया गया है। उन्होंने माजलगांव के पुलिस थाने में मामला दर्ज कराया गया।

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com