Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
NDTV Khabar

सरकार के लिए सिरदर्द बनती जा रही महंगी होती अरहर दाल

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
सरकार के लिए सिरदर्द बनती जा रही महंगी होती अरहर दाल
नई दिल्ली:

अरहर दाल सरकार के लिए बड़ा सिरदर्द बनती जा रही है। पिछले तीन हफ्तों में अरहर की कीमतों में तेजी से बढ़ोत्तरी हुई है और अब दिल्ली की किराना दुकानों में अरहर दाल 150 रुपये किलो तक बिकने लगी है।

एनडीटीवी ने जब सेन्ट्रल दिल्ली की साउथ एवेन्यू कॉलोनी का दौरा किया तो पाया कि वहां अरहर दाल 150 रुपये किलो के रेट पर बिक रही है। किराना दुकानदार अशोक खुराना कहते हैं, 'हम मजबूर होकर 150 रुपये किलो के रेट पर अरहर दाल बेच रहे हैं। हम अनाज मंडी से 138 से 140 के रेट पर अरहर खरीदते हैं और ऐसे में हमारे पास 150 रुपये के रेट पर बेचने के अलावा विकल्प कम हैं।'

कीमत में उछाल की वजह से अरहर की बिक्री आधी रह गई है। अशोक खुराना ने एनडीटीवी से कहा, 'जो लोग 5 किलो अरहर खरीदते थे वे अब 2 किलो खरीद रहे हैं। इससे बिक्री आधी हो गई है और मार्जिन भी कम हो गया है।'

टिप्पणियां

पिछले दो-तीन हफ्तों में अरहर के साथ-साथ उड़द दाल भी महंगी हुई है। खाद्य मंत्रालय के अपने आंकड़ों के मुताबिक दिल्ली में उड़द दाल की औसत कीमत 115 रुपये प्रति किलो तक पहुंच चुकी है। अब बाजार में अरहर और उड़द दालों की उपलब्धता बढ़ाने के लिए सरकार अगले तीन हफ्तों में मालावी, मोजाम्बीक और म्यांमार से भारत पहुंचने वाले 5,000 टन अरहर और 5,000 टन उड़द दाल के आयात पर निर्भर है। खाद्य मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने एनडीटीवी को बताया कि 5,000 टन अरहर दाल की खेप 6 सितंबर तक मुंबई पहुंच जाएगी। जबकि 5,000 टन उड़द दाल के सितंबर के तीसरे हफ्ते तक भारत पहुंचने की उम्मीद है।


कैबिनेट सचिव ने बुधवार को सचिवों की कमेटी की एक अहम बैठक बुलाई है जिसमें दाल समेत सभी जरूरी चीजों की बढ़ी हुई कीमतों की समीक्षा होगी।



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... अपने भाषण पर उठे विवाद के बाद बीजेपी नेता कपिल मिश्रा ने दी सफाई,कहा- CAA का समर्थन करके कुछ गलत नहीं किया

Advertisement