उपचुनाव से ठीक पहले सामने आया अस्पताल में बैठीं जयललिता का वीडियो

पिछले साल दिसंबर में दिवंगत हुईं तमिलनाडु की भूतपूर्व मुख्यमंत्री जे. जयललिता एक वीडियो में अस्पताल के बेड पर बैठे हुए, कोई पेय पीते हुए और शायद TV देखते दिखाई दे रही हैं, जो उनके अस्पताल में बिताए वक्त का पहला वीडियो है.

उपचुनाव से ठीक पहले सामने आया अस्पताल में बैठीं जयललिता का वीडियो

जयललिता का अस्‍पताल में इलाज के दौरान का वीडियो आया सामने (फाइल फोटो)

खास बातें

  • जयललिता के अस्पताल में बिताए वक्त का पहला वीडियो है
  • यह वीडियो उपचुनाव से ठीक एक दिन पहले जारी किया गया है
  • ये वीडियो दिनाकरण के समर्थक विधायक ने जारी किया है.
चेन्‍नई:

पिछले साल दिसंबर में दिवंगत हुईं तमिलनाडु की भूतपूर्व मुख्यमंत्री जे. जयललिता एक वीडियो में अस्पताल के बेड पर बैठे हुए, कोई पेय पीते हुए और शायद TV देखते दिखाई दे रही हैं, जो उनके अस्पताल में बिताए वक्त का पहला वीडियो है.
 
आरके नगर उपचुनाव : जयललिता के निधन से खाली सीट पर घमासान जारी

अपनी मृत्यु के समय तक जयललिता चेन्नई के आरके नगर विधानसभा क्षेत्र से विधायक रही थीं, और यह वीडियो इस क्षेत्र में होने जा रहे उपचुनाव से ठीक एक दिन पहले जारी किया गया है.
 
बताया गया है कि यह वीडियो जयललिता की लम्बे समय तक सहयोगी रहीं शशिकला के भतीजे टीटीवी दिनाकरण के समर्थक विधायक ने जारी किया है. सूत्रों का कहना है कि दिनाकरण गुट की कोशिश है कि पार्टी में लगातार जारी वर्चस्व की लड़ाई में वे इस वीडियो के ज़रिये जयललिता की विरासत पर दावा पेश कर सकें.

Newsbeep

जयललिता पर ‘हो सकता है कि हमला हुआ हो : भतीजी दीपा जयकुमार
 
सत्तारूढ़ एआईएडीएमके द्वारा इसी साल दरकिनार कर दिए गए दिनाकरण पार्टी के आधिकारिक प्रत्याशी के खिलाफ आरके नगर सीट से चुनाव लड़ रहे हैं.
 
पिठले साल 5 दिसंबर को देहावसान से पहले तीन महीने तक जयललिता अस्पताल में रही थीं. किसी ने भी उन्हें अस्पताल में नहीं देखा था, जिससे उनके इलाज और हालत को लेकर विवाद खड़ा हो गया था. शशिकला उन्हें किन हालात में लेकर अस्पताल पहुंची थीं, इस पर सवाल भी खड़े किए गए थे. बहुतों का मानना था कि जिस वक्त उन्हें अस्पताल में लाया गया था, उनकी मृत्यु हो चुकी थी, और उन्हें सिर्फ राजनैतिक मकसद साधने के लिए अस्पताल में रखा गया था.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


VIDEO: शशिकला ने जयललिता की समाधि पर टेका था माथा   
अपोलो अस्पताल ने कहा था कि 22 सितंबर को अस्पताल लाए जाने पर जयललिता बेहोशी की हालत में थीं. दिनाकरण ने पहले भी कहा था कि उनके पास वीडियो के रूप में इस बात का सबूत मौजूद है कि वह जीवित थीं, और अस्पताल में उनका इलाज चल रहा था, लेकिन वह इसे ज़ाहिर नहीं करना चाहते थे, क्योंकि भूतपूर्व मुख्यमंत्री को यह पसंद नहीं आता कि उन्हें इस हालत में देखा जाए.