NDTV Khabar

बेगूसराय : कन्हैया के समर्थन में उम्मीदवारी छोड़ने की जावेद अख्तर की अपील पर भड़की RJD, दिया यह जवाब

आरजेडी के राष्ट्रीय प्रवक्ता शिवानंद तिवारी ने कहा- अगर CPI सचमुच फासीवादी ताकतों को परास्त करना चाहती है तो बेगूसराय से अपने उम्मीदवार को रिटायर करा दे

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
बेगूसराय : कन्हैया के समर्थन में उम्मीदवारी छोड़ने की जावेद अख्तर की अपील पर भड़की RJD, दिया यह जवाब

जावेद अख्तर की बेगूसराय में कन्हैया कुमार को समर्थन देने की अपील पर आरजेडी ने करारा जवाब दिया है.

खास बातें

  1. कहा- जावेद अख्तर ने RJD उम्मीदवार के लिए हिकारत के भाव से बात की
  2. पिछले चुनाव में आरजेडी के तनवीर को तीन लाख साठ हजार वोट मिले थे
  3. सीपीआई ने जेडीयू के साथ लड़ा था चुनाव, वोट दो लाख से भी कम मिले थे
पटना:

बिहार (Bihar) में चौथे चरण का प्रचार खत्म होने में बस दो दिन बचे हैं. प्रचार जोरशोर से चल रहा है. सबकी निगाहें बेगूसराय (Begusarai) सीट पर हैं, जहां वामपंथी दलों के नेताओं और फिल्म जगत की मशहूर हस्ती जावेद अख्तर (Javed Akhtar) ने आरजेडी उम्मीदवार तनवीर हसन (Tanvir Hasan) को कन्हैया (Kanhaiya Kumar) के समर्थन में बैठाने की अपील की थी. लेकिन राष्ट्रीय जनता दल (RJD) ने इस मांग को खारिज कर दिया है.

राष्ट्रीय जनता दल (RJD) के राष्ट्रीय प्रवक्ता शिवानंद तिवारी (Shivanand Tivary) का कहना है कि जावेद अख्तर (Javed Akhtar)  साहब मशहूर शायर हैं, वामपंथी मिजाज के हैं. राज्यसभा में हम लोग साथ थे. जावेद जी बेगूसराय गए थे, मीडिया के दुलरुवा (दुलारे) कन्हैया (Kanhaiya Kumar) के लिए वोट मांगने. यह उनका अधिकार है. लेकिन हमारे उम्मीदवार के लिए हिकारत के भाव से उन्होंने बात की और उनको वोट देने वालों से कहा कि इनके बदले सीधे बीजेपी को ही वोट दे दें. उनके इस बयान की मैं घोर निंदा करता हूं. जावेद जी को अपनी मशहूरियत का इस्तेमाल इतने हल्के ढंग से नहीं करना चाहिए.

शिवानंद के अनुसार अगर सीपीआई (CPI) सचमुच फासीवादी ताकतों को परास्त करना चाहती है तो उन्हें बेगूसराय से अपने उम्मीदवार को रिटायर करा देना चाहिए. मीडिया ने देश भर में कन्हैया का जलवा बना दिया है. लेकिन कन्हैया के पैर के नीचे बेगूसराय की जमीन नहीं है.


बेगूसराय में कन्हैया कुमार के लिए जावेद अख्तर ने चुनाव प्रचार किया 

आरजेडी नेता ने कहा कि महागठबंधन के हमारे उम्मीदवार तनवीर हसन विगत लोकसभा चुनाव में भी राजद (RJD) की ओर से बेगूसराय से चुनाव लड़े थे. तनवीर जी को तीन लाख साठ हजार वोट मिले थे. सीपीआई भी नीतीश जी की पार्टी से गठबंधन बनाकर लड़ी थी. उनको दो लाख से भी कम वोट मिले थे. आज सीपीआई कन्हैया को उम्मीदवार बनाकर अकेले लड़ रही है.

बिहारः कन्हैया कुमार के लिए कैंपेनिंग करने पहुंचे सीताराम येचुरी बोले- राजद से रिश्ता पुराना मगर यह 'खेदजनक'

उन्होंने कहा कि बेगूसराय लोकसभा में सात विधानसभा क्षेत्र हैं. इनमें से पांच विधानसभा क्षेत्रों में महागठबंधन के विधायक हैं. सीपीआई भी पिछला विधानसभा लड़ चुकी है. कैसा हाल था, यह उनको स्मरण होगा. ऐसे में सीपीआई का अपना उम्मीदवार वहां लड़ाना भाजपा को ही मदद पहुंचाने जैसा है. इसलिए सीपीआई से अनुरोध है कि अपना उम्मीदवार वापस लेकर महागठबंधन के उम्मीदवार तनवीर हसन का समर्थन करे.

VIDEO : गिरिराज ने कहा, कब्र के लिए जमीन चाहिए तो वंदे मातरम गाना होगा

टिप्पणियां



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों, LIVE अपडेट तथा चुनाव कार्यक्रम के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement