कोरोना के खिलाफ 'जंग' में यह IPS निभा रहा 'डबल रोल', कहा-मैं पुलिसकर्मी हूं और डॉक्‍टर भी'

मालदा जिले के एडीशनल एसपी (Headquarters) एचएम रहमान (HM Rehman) UPSC परीक्षा में कामयाबी हासिल करने के पहले MBBS और MD की डिग्री भी हासिल कर चुके हैं.

कोरोना के खिलाफ 'जंग' में यह IPS निभा रहा 'डबल रोल', कहा-मैं पुलिसकर्मी हूं और डॉक्‍टर भी'

रहमान साथी पुलिसकर्मियों की कोरोना के खिलाफ जंग में मदद कर रहे हैं (प्रतीकात्‍मक फोटो)

खास बातें

  • रहमान के पास है MBBS और MD की डिग्री
  • बाद में उन्‍होंने यूपीएससी में भी हासिल की सफलता
  • पुलिसकर्मियों की कोरोना से बचाव में बन रहे मददगार
माल्‍दा :

Coronavirus Pandemic: पश्चिम बंगाल के मालदा जिले (West Bengal's Malda district) में तैनात एक IPS अफसर, अपने मेडिकल नॉलेज के जरिये सहयोगियों की कोरोना वायरस के खिलाफ जंग में मदद कर रहे हैं. मालदा जिले के एडीशनल एसपी (Headquarters) एचएम रहमान (HM Rehman) UPSC परीक्षा में कामयाबी हासिल करने के पहले MBBS और MD की डिग्री भी हासिल कर चुके हैं. रहमान ने बताया कि वह पुलिस अधीक्षक (SP) आलोक राजोरा के प्रोत्साहन के बाद पुलिसकर्मियों के स्वास्थ्य का ध्यान रखने लगे हैं. उन्होंने कहा, "मैं एक पुलिसकर्मी हूं और एक डॉक्टर भी हूं. मुझे अपनी 'टीम' के साथियों को जानलेवा वायरस के बारे में जागरूक करने और संक्रामक को हराने के लिए सतर्क रहने की जिम्‍मेदारी को भी पूरा करना है.

भारत में COVID-19 के कुल मामले 19 लाख के पार

रहमान उन पुलिसकर्मियों को सलाह और परामर्श देने का काम करते हैं जो फील्ड ड्यूटी पर जाते हैं. उन्होंने बताया कि मालदा जिले में 250 पुलिसकर्मी कोरोना वायरस से संक्रमित हो गए थे और इनमें से 201 अब स्वस्थ हैं. इन 201 में से 156 तो अब ड्यूटी पर भी वापस आ चुके हैं. रहमान ने बताया,‘‘ हमने यह सुनिश्चित किया कि सेवा में ज्यादा उम्र के कर्मियों को इस समय अग्रिम मोर्चे पर तैनात न किया जाए. इसके अलावा जो वायरस से संक्रमित थे, उनके लिए मेरी जिम्‍मेवारी थी कि उनके मनोबल को ऊंचा रखा जाए. मैंने इन लोगों से सभी एहतियात बरतने को कहा और मैं नियमित तौर पर इन लोगों से बात करता था.'' 

गौरतलब है कि रहमान इस साल फरवरी में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक (मुख्यालय) में तैनात हुए हैं. रहमान ने पुलिसबल के सभी सदस्यों को ड्यूटी करते समय बुनियादी सुरक्षा प्रोटोकॉल का पालन करने के लिए कहा है. उन्होंने कहा कि वह जूनियर सहयोगियों 24x7 के लिए फोन पर उपलब्ध हैं. 

Newsbeep

भारत में 186 दिन में 18 लाख से ज्यादा कोरोना केस

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com




(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)