बंगाल चुनाव को लेकर ओवैसी तैयार, 25 फरवरी की रैली में फूकेंगे AIMIM के चुनावी अभियान का बिगुल

बंगाल एआईएमआईएम के सचिव जमीरुल हसन ने कहा, "इस चुनावी सीजन में हमारी पार्टी के सुप्रीमो असदुद्दीन ओवैसी की राज्य में यह पहली रैली होगी. वह राज्य में पार्टी के चुनाव प्रचार अभियान की शुरुआत करेंगे."

बंगाल चुनाव को लेकर ओवैसी तैयार, 25 फरवरी की रैली में फूकेंगे AIMIM के चुनावी अभियान का बिगुल

बंगाल चुनाव: ओवैसी करेंगे एआईएमआईएम के चुनावी अभियान का आगाज (फाइल फोटो)

कोलकाता:

पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव की सियासी जंग में एआईएमआईएम के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी की भी एंट्री हो गई है. ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) के चीफ असदुद्दीन ओवैसी बंगाल में पार्टी के चुनाव अभियान की शुरुआत 25 फरवरी को कोलकाता के अल्पसंख्यक बहुल इलाके मटियाबुर्ज में रैली करके शुरू करेंगे. बिहार में एआईएमआईएम के अच्छे प्रदर्शन से उत्साहित ओवैसी ने बंगाल विधानसभा चुनाव लड़ने का ऐलान किया है. ओवैसी फुरफुरा शरीफ के मौलवी अब्बास सिद्दीकी के साथ संभावित गठबंधन के लिए बातचीत कर रहे हैं. सिद्दीकी ने हाल ही में इंडियन सेक्युलर फ्रंट (ISF) नाम का संगठन बनाया है. 

बंगाल एआईएमआईएम के सचिव जमीरुल हसन ने कहा, "इस चुनावी सीजन में हमारी पार्टी के सुप्रीमो असदुद्दीन ओवैसी की राज्य में यह पहली रैली होगी. वह राज्य में पार्टी के चुनाव प्रचार अभियान की शुरुआत करेंगे." 

कोलकाता की मटियाबुर्ज सीट अल्पसंख्यक बहुल है और डायमंड हार्बर लोकसभा सीट के अंतर्गत आती है, जो कि बंगाल की मुख्यमंत्री और तृणमूल कांग्रेस की सुप्रीमो ममता बनर्जी के भतीजे अभिषेक बनर्जी का संसदीय क्षेत्र है. एआईएमआईएम पोस्टर और नारे (आवाज उठाने का वक्त आ चुका है) के साथ तैयारी कर चुका है. 


ओवैसी की रैली को लेकर सत्ताधारी पार्टी तृणमूल कांग्रेस ने कड़ी प्रतिक्रिया जाहिर की है. टीएमसी के वरिष्ठ नेता सौगत रॉय ने कहा, "एआईएमआईएम कुछ नहीं सिर्फ बीजेपी की प्रॉक्सी है. ओवैसी को अच्छे से पता है कि यहां ज्यादा मुस्लिम बंगाली भाषी हैं और उन्हें समर्थन नहीं देंगे. बंगाल में मुस्लिम ममता बनर्जी के साथ मजबूती से खड़ा है." 

वीडियो: PM मोदी दो हफ्तों में करेंगे पांच चुनावी राज्यों का दौरा

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com