बेंगलुरु: बाढ़ जैसे हालात के बीच 'मसीहा' बने युवक, मासूम बच्चों की ऐसे बचाई जान, देखिए VIDEO 

वीडियो में दिखाई दे रहा है कि एक शख्स 15 दिन के बच्चे को हाथ में उठाकर पानी से बचाता हुआ ले जा रहा है और फिर उस बच्चे को एक महिला को सौंप देता है.

बेंगलुरु: बाढ़ जैसे हालात के बीच 'मसीहा' बने युवक, मासूम बच्चों की ऐसे बचाई जान, देखिए VIDEO 

बेंगलुरु में कुछ युवक बचा रहे बच्चों की जान

बेंगलुरु:

भारत की सिलिकॉन वैली बेंगलुरु (Bengluru) इन दिनों भारी बारिश और बाढ़ के कहर से जूझ रही है. कर्नाटक की राजधानी बेंगलुरु में बारिश से आलम यह है कि सड़कें पानी में डूब गई हैं और बाढ़ जैसी स्थिति हो गई है. संकट की इस घड़ी में कुछ लोग दूसरों की मदद करते हुए कैमरे में कैद हुए हैं. तस्वीरों और वीडियो में कुछ लोग मुश्किल में फंसे एक नवजात बच्चे को बचाते हुए दिखाई दे रहे हैं. दावा किया जा रहा है कि बच्चे को बचाने का जो वीडियो सोशल मीडिया पर सामने आया है वह बेंगलुरु के बाहरी इलाके होसाकेरेहल्ली का है. 

वीडियो में दिखाई दे रहा है कि एक शख्स 15 दिन के बच्चे को हाथ में उठाकर पानी से बचाता हुआ ले जा रहा है और फिर उस बच्चे को एक महिला को सौंप देता है. बाद में उस शख्स को दूसरे बाढ़ प्रभावित घर की ओर जाते देखा जा रहा है. इस दौरान, पास ही खड़े कुछ अन्य लोग उसे निर्देश दे रहे हैं. 

उस युवक ने दक्षिण बेंगलुरु इलाके में बाढ़ से प्रभावित घर में फंसी एक बच्ची को भी बचाया. बेंगलुरु में पूरी रात हुई बारिश से सड़कें पानी में डूब गई और लोग अपना घर छोड़कर जाने के लिए मजबूर हैं. 

बेंगलुरु में शुक्रवार को दोपहर 2.30 से शाम 5.30 बजे तक 13.2 मिलीमीटर बारिश होने बाद बाढ़ जैसी स्थिति हो गई. सड़कें नदियों में तब्दील हो गईं. ऐसे कई वीडियो सामने आए हैं. वीडियो में दिखाई पड़ रहा है कि राजधानी के निचले इलाकों में गाड़ियां पानी में बह गईं. कई जगहों पर कई फुट पानी होने की वजह से वाहनों की आवाजाही प्रभावित हुई. 

Newsbeep

मौसम विभाग के मुताबिक, "हल्की से मध्यम" बारिश की वजह से बेंगलुरु ग्रामीण, बेंगलुरु शहर, टुमकुर कोलार, चिक्कबल्लापुर, हासन और दक्षिण कन्नड़ जिलों में कई इलाकों में बाढ़ आ गई." मौसम विभाग के मुताबिक, बेंगलुरु शहर में आज हल्की से मध्यम वर्षा होने की आशंका है.

वीडियो: प्याज ने फिर निकाले आंसू, कई राज्यों में दाम 100 रुपये पार

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com