बेंगलुरु हिंसा: चार्जशीट में आरोपी कांग्रेस नेता के सचिव का इकबालिया बयान, क्या दो नेताओं की लड़ाई थी वजह?

कांग्रेस दुविधा में है कि करें तो क्या करें, क्योंकि जिस विधायक का घर जला है, वह कांग्रेस का है और वह खुद ही कांग्रेस नेताओं पर आरोप लगा रहा है और उनके खिलाफ कार्रवाई की मांग कर रहा है.

बेंगलुरु हिंसा: चार्जशीट में आरोपी कांग्रेस नेता के सचिव का इकबालिया बयान, क्या दो नेताओं की लड़ाई थी वजह?

बेंगलुरु हिंसा को लेकर दो कांग्रेस कॉरपोरेटर के नाम चार्जशीट में शामिल.

बेंगलुरु:

बेंगलुरु में इस साल अगस्त में हुई हिंसा के सिलसिले (Bengaluru Violence) में क्राइम ब्रांच ने जो चार्जशीट दाखिल की है, उसमें शहर के पूर्व मेयर और कांग्रेस नेता संपत राज के सचिव संतोष कुमार का इकबालिया बयान भी है, जिसके मुताबिक कांग्रेस विधायक अखंड श्रीनिवास मूति का घर जलवाने में सम्पत राज ने अहम भूमिका निभाई थी. 

सोशल मीडिया पर आपत्तिजनक पोस्ट अखंड श्रीनिवास के भांजे नवीन ने किया था, जिसके विधायक के साथ अच्छे संबंध नही थे. इसके बावजूद क्यों अखण्ड श्रीनिवास का घर जलाया गया? इस सवाल का जवाब पुलिस चार्जशीट में मिलता है. इसमें संपत राज के सचिव संतोष कुमार का बयान अहम है. इसमें कहा गया है कि संपत राज 2018 में हुए विधानसभा चुनाव में कांग्रेस के उम्मीदवार के तौर पर पुलकेशीनगर से लड़ना चाहते थे लेकिन अखंड श्रीनिवास मूर्ति के कांग्रेस में आने से संपत राज का मामला लटक गया और उन्होंने सही वक्त पर श्रीनिवास मूर्ति को सबक सिखाने का फैसला किया.

बयान में कहा गया है, '11 अगस्त को 7 बजे संपत राज ने मुझे कॉल कर अखंड श्रीनिवास मूर्ति के घर और दफ्तर के बाहर प्रदर्शन करने को कहा. मैंने मुजाहिद को कॉल किया और मुजाहिद ने घर और दफ्तर को आग लगा दी. मैंने संपत राज को जानकारी दी तो उन्होंने कहा कि वो सब कुछ देख रहे हैं. मैं उनको अपनी बाइक पर बिठाकर मौका-ए-वारदात पर भी ले गया.'

यह भी पढ़ें: एचडी कुमारस्वामी ने कहा- बेंगलुरु में कांग्रेस पार्टी की योजना नहीं चलेगी...

अखण्ड श्रीनिवास मूर्ति चाहते हैं कि संपत राज और ज़ाकिर को पार्टी से निकाला जाए, लेकिन कांग्रेस, पार्टी की अंदरूनी लड़ाई को रफा-दफा करने में लगी है. पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष डी के शिवकुमार ने इन आरोपों को खारिज करते हुए कहा है, 'सारे आरोप बेबुनियाद हैं. इनका कोई आधार नहीं है. किसी भी कांग्रेस नेता का इसमें कोई रोल नहीं है. सरकार अपनी कमी छुपाने के लिए कांग्रेस को बदनाम कर रही है.'

कर्नाटक के उप-मुख्यमंत्री डॉ अश्वत्थ नारायण ने कहा, 'अखंड श्रीनिवास मूर्ति जो कि कांग्रेस के विधायक हैं, उन्होंने खुद ही अपने ही पार्टी के लोगों पर आरोप लगा रहे हैं इसमें हमारा क्या रोल है जांच होने दीजिए सब साफ हो जाएगा.'

अब कांग्रेस दुविधा में है कि करें तो क्या करें, क्योंकि जिस विधायक का घर जला है, वह कांग्रेस का है और वह खुद ही कांग्रेस नेताओं पर आरोप लगा रहा है और उनके खिलाफ कार्रवाई की मांग कर रहा है. ऊपर से राज्य में उपचुनाव होने वाले हैं. ऐसे में कांग्रेस की मुश्किल और भी ज्यादा बढ़ गई है.

Video: बेंगलुरु: आपत्तिजनक पोस्ट पर हिंसा

Newsbeep

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com