NDTV Khabar

विधि आयोग की सिफारिश, क्रिकेट सहित सभी खेलों में बेटिंग हो लीगल

विधि आयोग ने गुरुवार को सिफारिश की है कि क्रिकेट समेत अन्य खेलों पर सट्टे को प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष कर प्रणालियों के तहत नियमित कर देय गतिविधियों के रूप में अनुमति दी जाए.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
विधि आयोग की सिफारिश, क्रिकेट सहित सभी खेलों में बेटिंग हो लीगल

प्रतीकात्मक फोटो.

नई दिल्ली: विधि आयोग ने गुरुवार को सिफारिश की है कि क्रिकेट समेत अन्य खेलों पर सट्टे को प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष कर प्रणालियों के तहत नियमित कर देय गतिविधियों के रूप में अनुमति दी जाए. साथ ही विदेशी प्रत्यक्ष निवेश (एफडीआई) आकर्षित करने के लिए स्रोत के रूप में इसका इस्तेमाल किया जाए.

यह भी पढ़ें : एनडीटीवी एक्सक्लूसिव : जानिए कैसे काम करता है सट्टेबाजी का अंतरराष्ट्रीय रैकेट

आयोग की रिपोर्ट 'लीगल फ्रेमवर्क: गैंबलिंग एंड स्पोर्ट्स बेटिंग इनक्लूडिंग क्रिकेट इन इंडिया' में सट्टेबाजी के नियमन के लिए और इससे कर राजस्व अर्जित करने के लिए कानून में कुछ संशोधनों की सिफारिश की गई है. रिपोर्ट में कहा गया है, 'संसद सट्टेबाजी के नियमन के लिए एक आदर्श कानून बना सकती है और राज्य इसे अपना सकते हैं या वैकल्पिक रूप में संसद संविधान के अनुच्छेद 249 या 252 के तहत अपने अधिकारों का इस्तेमाल करते हुए विधेयक बना सकती है. यदि अनुच्छेद 252 के तहत विधेयक पारित किया जाता है तो सहमति वाले राज्यों के अलावा अन्य राज्य इसे अपनाने के लिए स्वतंत्र होंगे.'

यह भी पढ़ें : सट्टेबाजी से पाकिस्तान में क्रिकेट बर्बाद हुआ : जावेद मियांदाद

टिप्पणियां
विधि आयोग ने सट्टेबाजी या जुए में शामिल किसी वक्ति का आधार या पैन कार्ड भी लिंक करने की और काले धन का इस्तेमाल रोकने के लिए नकदी रहित लेन-देन करने की भी सिफारिश की. 

(इनपुट : भाषा)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement