NDTV Khabar

ओडिशा के भद्रक में दो समुदायों के बीच टकराव : कर्फ्यू में ढील, सोशल मीडिया पर अब भी बैन

14 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
भुवनेश्वर: ओडिशा के भद्रक में दो समुदायों के बीच टकराव के बाद हालात धीरे-धीरे सुधर रहे हैं. आज कर्फ्यू का पांचवां दिन है, लेकिन राहत की बात है कि सुबह 7 बजे से दोपहर 2 बजे तक कर्फ़्यू में ढील दी गई है. इससे पहले सोमवार दोपहर 12 बजे तक भी कर्फ्यू में ढील दी गई थी. अब तक आठ मामलों में 73 लोगों को गिरफ्तार किया गया है. सोशल मीडिया पर बैन अब भी जारी है. हिन्दू देवता पर सोशल मीडिया पर आपत्तिजनक टिप्पणी को लेकर दो गुट आपसे में भिड़ गए थे. पूरे मामले में स्थानीय पुलिस की भूमिका पर सवाल उठ रहे हैं.

पुलिस महानिदेशक केबी सिंह ने कहा कि शहर में हालात धीरे-धीरे सामान्य हो रहे हैं. सिंह ने कहा, स्थिति पूरी तरह नियंत्रण में है और शहर में सामान्य स्थिति बहाल है. कर्फ्यू में ढील के दौरान शहर की कई दुकानें और व्यापारिक प्रतिष्ठान खुले. पुलिस महानिदेशक ने कहा कि कानून-व्यवस्था बनाए रखने के लिए शहर के आसपास केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) और रैपिड एक्शन फोर्स (आरएएफ) के साथ पुलिस के 38 प्लाटून तैनात किए गए हैं.

इस बीच अपराध शाखा ने सोशल मीडिया पर हिंदू देवताओं के बारे में पोस्ट की गई अश्लील टिप्पणी की जांच शुरू कर दी है, जिससे बीते सप्ताह जिला मुख्यालय पर हिंसा हुई थी. अपराध शाखा के विशेष महानिदेशक बी.के. शर्मा ने ट्वीट किया, सोशल मीडिया पर फैलाई गई अफवाहों की जांच के लिए ओडिशा अपराध शाखा की साइबर टीम भद्रक में है. सात सदस्यों की टीम सोशल मीडिया पर आपत्तिजनक सामग्री और अफवाहों से जुड़े सभी पक्षों की जांच करेगी.
शर्मा ने कहा कि साइबर पुलिस प्रकोष्ठ सोशल मीडिया पर नफरत भरे संदेशों का प्रसार करने वाले अपराधियों को पकड़ने के लिए लोगों से जानकारी मांग रहा है. इनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी. (इनपुट्स IANS से भी)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement