NDTV Khabar

Bharat Bandh: क्या BJP ने शिवसेना को भारत बंद से दूर रहने के लिए कहा? पार्टी सांसद संजय राउत ने कही यह बात

पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों के खिलाफ कांग्रेस के भारत बंद (Bharat Bandh) में शिवसेना (Shiv Sena) शामिल नहीं हुई.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
Bharat Bandh: क्या BJP ने शिवसेना को भारत बंद से दूर रहने के लिए कहा? पार्टी सांसद संजय राउत ने कही यह बात

Bharat Bandh: संजय राउत ने कहा कि भारत बंद में शिवसेना के शामिल नहीं होने में बीजेपी की कोई भूमिका नहीं.

खास बातें

  1. कांग्रेस द्वारा बुलाए गए भारत बंद में शामिल नहीं हुई शिवसेना
  2. 'बंद से दूर रहने के फैसले में भाजपा की कोई भूमिका नहीं'
  3. भारत बंद को समर्थन देने की मांग को शिवसेना ने ठुकरा दिया था
नई दिल्ली:

पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों के खिलाफ कांग्रेस के भारत बंद (Bharat Bandh) में शिवसेना (Shiv Sena) शामिल नहीं हुई. महाराष्ट्र कांग्रेस अध्यक्ष अशोक चव्हाण ने शिवसेना से भारत बंद का समर्थन करने का आग्रह किया था. हालांकि शिवसेना ने कांग्रेस के इस अनुरोध को ठुकरा दिया था. अब शिवसेना सांसद संजय राउत ने इन बातों को खारिज किया है कि भाजपा के वरिष्ठ नेताओं ने शिवसेना से पेट्रोलियम पदार्थों के बढ़ते दाम के विरोध में कांग्रेस द्वारा आहूत भारत बंद से दूर रहने के लिए कहा था.

यह भी पढ़ें : कांग्रेस नेता अशोक गहलोत बोले- पार्टी ने पहली बार बुलाया भारत बंद, हमारा इसमें यकीन नहीं, पढ़ें- ऐसे ही 8 बड़े बयान

संजय राउत ने कहा कि 'भारत बंद' में भाग नहीं लेने का फैसला शिवसेना का अपना फैसला है.  इसका भाजपा से कोई संबंध नहीं है. उन्होंने कहा, 'भाजपा के किसी नेता ने शिवसेना से बंद से दूर रहने के लिए नहीं कहा है. यह हमारा अपना निर्णय है.' राउत ने यह बयान राजनीतिक गलियारों में इस तरह की चर्चा के बीच दिया है कि भाजपा ने केंद्र और महाराष्ट्र में अपनी गठबंधन सहयोगी शिवसेना को कांग्रेस द्वारा प्रायोजित बंद से दूर रहने के लिए राजी किया. 

यह भी पढ़ें : Bharat Bandh: BJP ने कांग्रेस के भारत बंद को बताया पूरी तरफ 'फेल', राहुल गांधी से पूछा यह सवाल...


तृणमूल कांग्रेस ने भारत बंद से बनाई दूरी
तृणमूल कांग्रेस ने भारत बंद से दूरी बना ली है. पार्टी ने कहा कि वह पेट्रोल-डीजल की कीमतों में लगातार हो रही बढ़ोतरी जैसे मुद्दों को उठाती रहेगी, लेकिन विपक्षी पार्टियों के भारत बंद को अपना समर्थन नहीं देगी. हालांकि पश्चिम बंगाल सरकार के तमाम उपायों के बीच कोलकाता और उपनगरों में बंद का प्रभाव दिखा.

यह भी पढ़ें : 'भारत बंद' में खुद मिजोरम प्रदेश कांग्रेस नहीं हुई शामिल, अन्य राज्यों में कितना रहा असर, 11 बड़ी बातें

तृणमूल कांग्रेस ने रुपये के मूल्य में गिरावट समेत मुद्दे को तो समर्थन दिया है, लेकिन वह बंद के खिलाफ है. पश्चिम बंगाल के तकरीबन सभी स्कूल और कॉलेज खुले हुए थे. कोलकाता यातायात पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि बंद का असर जन जीवन पर नहीं पड़े, इसके लिए सभी उपाय किए गए हैं. बंद के समर्थकों ने जादवपुर स्टेशन पर रेल की पटरियों पर प्रदर्शन किया लेकिन यात्रियों के विरोध के बाद वह वहां से हट गए. 

टिप्पणियां

VIDEO : मनसे ने दिया भारत बंद को समर्थन, मगर मुंबई में जनजीवन समान्य

बीजद ने भी भारत बंद का समर्थन नहीं किया
ओडिशा में सत्ताधारी बीजू जनता दल (बीजद) ने भारत बंद का समर्थन नहीं किया. पार्टी ने हालांकि कहा कि वह ईंधन कीमतों में वृद्धि के खिलाफ है. बीजद प्रवक्ता सस्मित पात्रा ने कहा, "हम पेट्रोलियम उत्पादों की मूल्य वृद्धि में भारी वृद्धि के बारे में लोगों को जागरूक करने के लिए पिछले तीन दिनों से पूरे राज्य में विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं."


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों (Election News in Hindi), LIVE अपडेट तथा इलेक्शन रिजल्ट (Election Results) के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement