भीम आर्मी प्रमुख चंद्रशेखर ने अपनी पार्टी का ऐलान किया, कहा- हमारा झंडा दिल्ली की गद्दी पर लहराएगा

चंद्रशेखर आजाद ने अपनी नई पार्टी का नाम 'आजाद समाज पार्टी' रखा, कहा- हम प्रदेश सरकार और दिल्ली सरकार को झुकाएंगे

भीम आर्मी प्रमुख चंद्रशेखर ने अपनी पार्टी का ऐलान किया, कहा- हमारा झंडा दिल्ली की गद्दी पर लहराएगा

चंद्रशेखर आजाद ने अपनी नई पार्टी की घोषणा की (फाइल फोटो).

खास बातें

  • कहा- भीम आर्मी न सहारे, न किसी के इशारे पर चलती है
  • आजाद समाज पार्टी का झंडा नीले रंग का
  • नोएडा के सेक्टर 70 के बसई गांव में नई पार्टी का ऐलान किया
नई दिल्ली:

भीम आर्मी के प्रमुख चंद्रशेखर आजाद ने एक नई पार्टी बना ली जिसका नाम 'आज़ाद समाज पार्टी' (आसपा) होगा. चंद्रेशेखर ने रविवार को नोएडा में इस पार्टी के गठन का ऐलान किया. उन्होंने इस मौके पर कहा कि ''हमारे लोगों की नागरिकता छीनी जा रही है, आरक्षण छीना जा रहा है, षड्यंत्र हो रहे हैं. सड़क पर आंदोलन नहीं हो रहा है, इसलिए पार्टी बनाई है.'' उन्होंने कहा कि समता मूलक समाज के लिए यह पार्टी बनाई है.

चंद्रशेखर ने कहा कि ''बहुजन समाज का दुर्भाग्य है कि राज्यसभा में सतीश चंद्र मिश्र और लोकसभा में रीतेश पांडेय हमारी बात रखते हैं, लेकिन वे विचारधारा से भटक गए हैं. उनके पीछे झंडा क्यों उठाएं. बीजेपी को रोकने के लिए सहयोग लेंगे. हम गरीबों और नौजवानों की बात करेंगे.''

भीम आर्मी प्रमुख चंद्रशेखर आजाद ने नोएडा के सेक्टर 70 में स्थित बसई गांव में अपनी नई राजनीतिक पार्टी का ऐलान किया. उन्होंने संविधान की शपथ लेकर आजाद समाज पार्टी  (ASP) के गठन की घोषणा की. इस पार्टी का झंडा नीले रंग का है.

इस मौके पर चंद्रशेखर ने कहा कि ''आज कांशीराम का जन्मदिन है. आज ऐतिहासिक दिन है. एक दिन ASP का झंडा दिल्ली की गद्दी पर लहराएगा. हम कांशीराम के आदर्शों पर चलेंगे. उन्होंने कहा कि दिल्ली  में जो हुआ (दंगे), मैं उससे खुश नहीं था.''

उन्होंने कहा कि ''मेरे बारे में थोड़ा जान लें क्योंकि आंख बंद करके किसी के पीछे चलना गुलामी है. इससे हमें सबको आजाद करना है. मैं करोड़पति या सांसद, विधायक का बेटा नहीं, एक प्राइमरी अध्यापक का बेटा हूं. कांशीराम ने पूरा देश साइकिल पर नाप दिया. मिशन एक आदमी से नहीं बल्कि कैडर चलाता है.अपने अंदर कैडर पैदा करें.''

उन्होंने कहा कि ''आरोप लगता है कि मिशन को तोड़ने के लिए आया हूं, जबकि मैं साफ कहता हूं कि भीम आर्मी न सहारे, न किसी के इशारे पर चलती है. मेरा व्यक्तिगत हित होता तो किसी पार्टी में शामिल होकर सांसद और विधायक बन गया होता. जब तक जिंदा हूं कांशीराम के मिशन को आगे ले जाऊंगा. न बिकने वाला समाज और नेता बनाऊंगा. देश की करोड़ों माओं ने, वेमुला की मां ने आशीर्वाद भेजा है और कहा है कि धोखा मत देना. मैं जान दे दूंगा पर स्वाभिमान से समझौता या समाज को धोखा नहीं दूंगा. उन्होंने कहा कि आज बोलने की आजादी नहीं है, संविधान का पालन नहीं हो रहा. कुछ लोगों को मुझ पर शक हो सकता है पर जब ये मिशन आगे बढ़ेगा और हम प्रदेश सरकार और दिल्ली सरकार को झुकाएंगे तब इनको हम पर और हमारे मिशन पर भरोसा होगा. राज्यों में सीएम बनाओ, तब हमारा पीएम होगा. हमें मनुवादियों के वोट खैरात में नहीं चाहिए.''

उन्होंने कहा कि ''समाज में अमर होना है तो बिकना छोड़ना होगा. ASP को कोई खरीद नहीं पाएगा.  हम जमीर वाले हैं आखिरी सांस तक लड़ेंगे. हम यहां नौकर नहीं, शासक बनने आए हैं. हम देश में राज करने के लिए पैदा हुए हैं, राज करेंगे. पूरे देश में पैदल, साइकिल, गाड़ियों से परिवर्तन यात्रा करेंगे. अब आंदोलन शुरू हो गया है.कोई स्वागत न करें, साथ दें, हाथ मजबूत करें. इस पार्टी में युवाओं को नेतृत्व मिलेगा. संविधान को पूर्ण रूप से लागू करना हमारी पार्टी का एजेंडा है.आप मुझे सिर्फ पांच साल दीजिएगा, 2024 दूर नहीं. दिल्ली की सत्ता को रोककर दिखाएंगे.''

चंद्रशेखर ने कहा कि ''पीएम ने देश का बेड़ा गर्क किया. महंगाई, उत्पीड़न, पूंजीपतियों को मालिक और बहुजन को गुलाम बनाना इनका एजेंडा है. हम गोलियों से नहीं डरते. पीएम ने नीति आयोग का नाम बदला. पुराने अर्थशास्त्रियों को हटाकर बीजेपी के मंत्रियों और आरएसएस के लोगों को बिठा दिया.''

पार्टी के नाम की घोषणा के कार्यक्रम में बड़ी संख्या में भीम आर्मी के कार्यकर्ता और नेता मौजूद रहे.

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com