CAA विरोध प्रदर्शन से पहले हैदराबाद में हिरासत में लिए गए भीम आर्मी प्रमुख चंद्रशेखर

चंद्रशेखर आजाद को जमानत पर दिल्‍ली की तिहाड़ जेल से छूटे अभी 10 दिन ही हुए हैं और एक बार फिर उनको हिरासत में लिया गया है.

CAA विरोध प्रदर्शन से पहले हैदराबाद में हिरासत में लिए गए भीम आर्मी प्रमुख चंद्रशेखर

भीम आर्मी प्रमुख चंद्रशेखर आजाद (फाइल फोटो)

खास बातें

  • 16 जनवरी को ही तिहाड़ जेल से रिहा हुए थे चंद्रशेखर
  • दिल्‍ली के दरियागंज में लोगों को भड़काने का लगा था आरोप
  • 'सीएए, एनआरसी और एनपीआर को लेकर झूठ बोल रहा केंद्र'
हैदराबाद:

भीम आर्मी (Bhim Army) प्रमुख चंद्रशेखर आजाद (Chandrashekhar Azad) को हैदराबाद में नागरिकता कानून (Citizenship Amendment Act) और एनआरसी (NRC) के खिलाफ प्रस्‍तावित एक रैली से पहले ही हिरासत में ले लिया गया, न्‍यूज एजेंसी एएनआई ने ये खबर दी. लंगरहाउस पुलिस ने कहा कि प्रशासन ने प्रदर्शन की इजाजत नहीं दी थी और दलित नेता को ऐसा करने से रोकने के लिए हिरासत में लिया गया.

चंद्रशेखर आजाद को जमानत पर दिल्‍ली की तिहाड़ जेल से छूटे अभी 10 दिन ही हुए हैं और एक बार फिर उनको हिरासत में लिया गया है. उन्‍हें दिल्‍ली के दरियागंज इलाके में पिछले महीने नागरिकता कानून के खिलाफ प्रदर्शन के दौरान लोगों को भड़काने के आरोप में गिरफ्तार किया गया था.

दलित नेता ने समाचार एजेंसी पर खबर आने के 15 मिनट पहले ही ट्वीट कर खुद को हिरासत में लिए जाने की जानकारी दे दी थी. ट्वीट में लिखा था, 'भीम आर्मी के प्रमुख चंद्रशेखर आजाद को हैदराबाद पुलिस ने हिरासत में लिया.'

भीम आर्मी प्रमुख चंद्रशेखर का BJP पर हमला, कहा- जैसे हालात हैं उसमें हर बाग शाहीन बाग बन सकता है

दिल्‍ली के दरियागंज में पुलिस द्वारा लगाई गई निषेधाज्ञा का उल्‍लंघन करते हुए नागरिकता कानून के खिलाफ हो रहे प्रदर्शन की अगुवाई करने के बाद से चंद्रशेखर आजाद ऐसे प्रदर्शनों का एक प्रमुख चेहरा बन चुके हैं. जेल से रिहाई के बाद भी उन्‍होंने इस कानून पर हमले कम नहीं किए हैं.

शुक्रवार को बिहार के मुजफ्फरपुर में एक रैली को संबोधित करते हुए उन्‍होंने बीजेपी नीत केंद्र सरकार पर सीएए, एनआरसी और एनपीआर को लेकर झूठ बोलने का आरोप लगाया. चंद्रशेखर ने कहा, 'यह बोलकर कि यह कानून लोगों को नागरिकता देने के लिए है न कि छीनने के लिए, सरकार झूठ बोलने के अलावा कुछ नहीं कर रही है. वह नागरिकता कानून को एनआरसी से अलग होने का दावा कर देश को बरगला रही है. तीनों की कवायद देश के आम आदमी को नुकसान पहुंचाने वाली है.' (इनपुट ANI से...)

VIDEO: देश में संविधान को मानना गुनाह नहीं है: भीम आर्मी प्रमुख चंद्रशेखर आजाद

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com