Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
NDTV Khabar

भूपेश बघेल ने मोदी-शाह पर साधा निशाना, कहा- मोटा भाई-छोटा भाई बोल रहे हैं हिटलर की भाषा

भूपेश बघेल ने हिटलर के कहे एक वाक्य का जिक्र करते हुए कहा कि दोनों उसी की भाषा बोले रहे हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
भूपेश बघेल ने मोदी-शाह पर साधा निशाना, कहा- मोटा भाई-छोटा भाई बोल रहे हैं हिटलर की भाषा

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल (फाइल फोटो)

रायपुर:

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह पर हमलावर रुख अख्तियार किया है. उन्होंने दोनों के रवैये की तुलना जर्मन तानाशाह हिटलर से की है. भूपेश बघेल ने हिटलर के कहे एक वाक्य का जिक्र करते हुए कहा कि दोनों उसी की भाषा बोले रहे हैं. उन्होंने कहा, ''हिटलर ने एक बार अपने भाषण में कहा था कि आप मुझे जितनी चाहे गालियां दें लेकिन जर्मनी को गाली मत दीजिए. मोटा भाई-छोटा भाई भी बिल्कुल यही बात कह रहे हैं, उसी तरह की भाषा बोल रहे हैं.''

इससे पहले शुक्रवार को सीएए और एनआरसी को लेकर बघेल ने कहा था कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृहमंत्री अमित शाह के बीच मनमुटाव हो गया है, जिसके चलते पूरा देश पिस रहा है. राज्य में हुए नगरीय निकाय चुनाव में कांग्रेस को मिली सफलता पर राजधानी में आयोजित जनमत का सम्मान कार्यक्रम में मुख्यमंत्री बघेल ने कहा था, "बीते पांच साल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के थे और वर्तमान सरकार के जो सात माह हुए हैं, वह गृहमंत्री अमित शाह के हैं. पिछले कार्यकाल में प्रधानमंत्री मोदी ने नोटबंदी, जीएसटी आदि लाया तो वर्तमान के सात माह में गृहमंत्री ने सीएबी, सीएए, धारा 370 हटाया, राममंदिर का मामला लाया."


टिप्पणियां

छत्तीसगढ़ सरकार ने बंद की मीसा बंदियों को मिलने वाली सम्मान निधि, बीजेपी ने निर्णय को बताया अनुचित

बघेल ने कहा, "प्रधानमंत्री कहते हैं कि देश में एनआरसी लागू नहीं होगा, मगर गृहमंत्री क्रोनोलॉजी बताते हुए कहते हैं कि एनआरसी लागू होगा. लगता है कि दोनों के बीच मनमुटाव हो गया है, जिसमें देश की जनता पिस रही है. यह पता ही नहीं चल रहा है कि कौन सही और कौन गलत बोल रहा है." इतना ही नहीं उन्होंने केंद्र सरकार पर पुलवामा हमले के लिए भी सरकार को घेरा था. 
 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें. India News की ज्यादा जानकारी के लिए Hindi News App डाउनलोड करें और हमें Google समाचार पर फॉलो करें


 Share
(यह भी पढ़ें)... शाहीन बाग फिर पहुंचे मध्यस्थ, कहा- तकलीफें दूर करने के लिए मिलकर रास्ता निकालें

Advertisement