NDTV Khabar

बीदर मॉब लिंचिंग का नया वीडियो आया सामने, इंजीनियर के हाथ में रस्सी बांध घसीट रहे हैं लोग

कर्नाटक के बीदर में बच्चा चोरी की अफ़वाह पर एक सॉफ़्टवेयर इंजीनियर की पीट-पीटकर हत्या का एक नया वीडियो एनडीटीवी के हाथ लगा है. वीडियो में देखा जा सकता है कि भीड़ इंजीनियर को किस तरह हाथ में रस्सी बांध कर मुंह के बल खींच रही है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
बीदर मॉब लिंचिंग का नया वीडियो आया सामने, इंजीनियर के हाथ में रस्सी बांध घसीट रहे हैं लोग

खास बातें

  1. सॉफ़्टवेयर इंजीनियर की पीट-पीटकर हत्या की गई थी
  2. भीड़ इंजीनियर को किस तरह हाथ में रस्सी बांध कर मुंह के बल खींच रही है
  3. एक पुलिसकर्मी भीड़ के सामने हाथ जोड़कर गिड़गिड़ा रहा है.
नई दिल्ली: कर्नाटक के बीदर में बच्चा चोरी की अफ़वाह पर एक सॉफ़्टवेयर इंजीनियर की पीट-पीटकर हत्या का एक नया वीडियो एनडीटीवी के हाथ लगा है. वीडियो में देखा जा सकता है कि भीड़ इंजीनियर को किस तरह हाथ में रस्सी बांध कर मुंह के बल खींच रही है. वीडियो में एक पुलिसकर्मी भीड़ के सामने हाथ जोड़कर गिड़गिड़ा रहा है. लोगों से इंजीनियर को छोड़ने की गुहार लगा रहा है, लेकिन हिंसक भीड़ नहीं रुकती और आख़िरकार इंजीनियर की जान ले लेती है.

मॉब लिंचिंग पर सुप्रीम कोर्ट : कानूनों पर अमल की बजाय सिर्फ दिशानिर्देश

आपको बता दें कि एक व्हाट्सएप वीडियो में हैदराबाद के तकनीकी पेशेवर मोहम्मद आजम उस्मानसाब को गलत तरीके से बच्चा चोर बताये जाने के कारण 13 जुलाई को बीदर के समीप लोगों ने पीट-पीटकर मार डाला था. यह वीडियो हैदराबाद से जारी किया गया था. उसमें कहा गया था कि तीन बच्चों को अजनबियों ने अगवा कर लिया. वे उन्हें चॉकलेट, बिस्कुट और खिलौने का लालच देकर अपने जाल में फंसाते हैं. उसमें यह भी कहा गया है कि 400 अपहर्ताओं का एक गिरोह बच्चों की तस्करी के वास्ते बेंगलुरु पहुंचा है. एक पुलिस अधिकारी ने अपनी पहचान नहीं बताने की शर्त पर बताया कि वीडियो में कुछ लोग कथित रुप से बच्चों का अपहरण करने की बात कबूल करते नजर आ रहे हैं और तकनीकी पेशेवर की पीट पीटकर हत्या की यही वजह है. 

गोरक्षा के नाम पर हिंसा को लेकर SC ने कहा, संसद कानून बनाए, जिसमें भीड़ द्वारा हत्या के लिए सज़ा का प्रावधान हो

टिप्पणियां
पुलिस ने इस मामले में 30 लोग गिरफ्तार किया है. उनमें अफवाह फैलाने वाले व्हाट्सएप ग्रुप के एडमिशन और हमले की तस्वीर शूट करने वाले शामिल हैं. उस्मानसाब और उसके तीन दोस्त बीदर के हांडिकेरा गांव में अपने दोस्त मोहम्मद बशीर अफरोज से मिलने आये थे. हैदराबाद लौटते समय वे फोटो लेने के इरादे से एक मकान के पास रुक गये. कुछ बच्चों को देख उन्होंने उन्हें चॉकलेट दी. स्थानीय लोगों ने गलती से उन्हें बच्चा चोर समझ लिया और उनपर उन्होंने हमला बोल दिया. उसी बीच उनकी तस्वीर व्हाट्सएप ग्रुप पर फैली तथा और लोग वहां पहुंच गये. वहां से तीनों भागने में कामयाब हो गये, लेकिन मुरकी गांव के समीप उन्हें पकड़ लिया गया. लोगों ने उनकी बुरी तरह पिटाई की. पुलिस के हस्तक्षेप से तीनों अस्पताल पहुंचाये गये, लेकिन उस्मानसाब को बचाया नहीं जा सका.

VIDEO: बीदर में बच्चा चोरी की अफ़वाह पर इंजीनियर की पीट-पीटकर हत्या का एक नया वीडियो आया सामने
 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement