NDTV Khabar

DSP देवेंदर सिंह की गिरफ्तारी के बाद श्रीनगर से नई दिल्ली तक ख़तरे की घंटी, 8 बड़ी बातें

जम्मू-कश्मीर में बहादुरी के अवॉर्ड पाने वाला एक पुलिस अफ़सर आतंकियों को लाने ले जाने और अपने घर में शरण देने का आरोपी पाया गया है. इस ख़बर ने श्रीनगर से दिल्ली तक सुरक्षा एजेंसियों को हैरान परेशान कर दिया है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
DSP देवेंदर सिंह की गिरफ्तारी के बाद श्रीनगर से नई दिल्ली तक ख़तरे की घंटी, 8 बड़ी बातें

DSP देवेंदर सिंह को आतंकियों के साथ गिरफ्तार किया गया है.

नई दिल्ली: जम्मू-कश्मीर में बहादुरी के अवॉर्ड पाने वाला एक पुलिस अफ़सर आतंकियों को लाने ले जाने और अपने घर में शरण देने का आरोपी पाया गया है. इस ख़बर ने श्रीनगर से दिल्ली तक सुरक्षा एजेंसियों को हैरान परेशान कर दिया है. डीएसपी देविंदर सिंह को बीते शनिवार दो आंतकियों के साथ कुलगाम के क़रीब चेकिंग के दौरान गिरफ़्तार किया गया. उसके घर पर पड़े छापों में भी हथियार बरामद हुए हैं, उसकी निशानदेही पर दूसरी जगहों से भी हथियार मिले हैं. देविंदर सिंह के घर पर जम्मू-कश्मीर पुलिस ने सोमवार को नए सिरे से छापामारी की. देवेंदर सिंह हिज़्बुल मुजाहिदीन के कमांडर नावीद बाबू और उसके दो सहयोगियों इरफ़ान और रफ़ी को दक्षिण कश्मीर के शोपियां से अपने घर श्रीनगर तक लाया था. अगली सुबह शनिवार तो दस बजे वो जम्मू के लिए चले, सूत्रों के मुताबिक जम्मू से वो दिल्ली जाने की योजना बना रहे थे, लेकिन श्रीनगर से 50 किलोमीटर दूर वानपोह में पकड़ लिए गए.
8 बड़ी बातें
  1. देविंदर सिंह की गिरफ़्तारी से श्रीनगर से नई दिल्ली तक ख़तरे की घंटियां बजने लगी हैं.  वो एयरपोर्ट की सुरक्षा में तैनात एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी था- यहां, वो बस कुछ ही दिन पहले जम्मू-कश्मीर में दो दिन के दौरे पर आने वाले विदेशी राजनयिकों का स्वागत कर रहा था.  
  2. जिन लोगों को वो लेकर जा रहा था, वे कट्टर आतंकवादी हैं. नावीद कश्मीर में हिज़्बुल मुजाहिदीन की कमान में दूसरे नंबर पर है. सोशल मीडिया के प्रचार में भी उसकी तस्वीरें हैं. 11 मज़दूरों और कई सुरक्षाकर्मियों पर हमले के सिलसिले में पुलिस को उसकी तलाश है. उसके सिर पर 20 लाख रुपये का इनाम है. 
  3. हिज़्बुल मुजाहिदीन का इरफ़ान बीते कुछ सालों में 5 बार पाकिस्तान जा चुका है. रफ़ी भी हिज़्बुल मुजाहिदीन का है.  पुलिस अफसर के साथ 26 जनवरी से पहले दिल्ली जा रहे आतंकियों की ख़बर के बाद कई गंभीर सवाल उठ खड़े हुए हैं.  
  4. सूत्रों ने NDTV को बताया कि राष्ट्रपति पुलिस पदक से सम्मानित पुलिस अधिकारी ने नवीद को कई बार अलग-अलग जगहों पर पहुंचाया था. पिछले साल, वह उसे जम्मू ले गया था. 
  5. सूत्रों का कहना है कि देवेंदर सिंह से आतंकियों जैसा ही सलूक किया जा रहा है और सुरक्षा और खुफिया एजेंसियों की टीम उससे पूछताछ कर रही है. 
  6. पुलिस सूत्रों ने बताया कि वह शुक्रवार सुबह से ही देवेंद्र सिंह और नवीद बाबू की गतिविधियों पर नजर रखे हुए थे.
  7. देवेंदर सिंह जब कथित रूप से तीनों आतंकियों को शुक्रवार की शाम अपने घर ले गया तो सादे कपड़ों में पुलिसकर्मी पहले से ही उसपर नजर बनाए हुए थे. 
  8. 2013 में देवेंद्र सिंह तब चर्चा में आया था जब संसद पर हमले के आरोपी अफजल गुरु द्वारा लिखी गई एक चिट्ठी, जिसमें दावा किया गया था अधिकारी ने उसे संसद हमले के एक आरोपी को साथ दिल्‍ली ले जाने और उसके रहने की व्‍यवस्‍था करने को कहा था.



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
टिप्पणियां
 Share
(यह भी पढ़ें)... TikTok Viral: समुद्र से निकला इतना बड़ा 'सांप' कि इंसान दिखने लगे चींटी जैसे! 2 करोड़ से ज्यादा बार देखा गया Video

Advertisement