चीनी जासूसी नेटवर्क मामले में बड़ा खुलासा, PMO समेत बड़े कार्यालयों की जानकारी पर थी नजर

चीनी जासूसी नेटवर्क की पूछताछ में अहम जानकारी सामने आई है. जासूसी मामले में पकड़ी गई युवती क्विंसी से पूछताछ में जानकारी मिली है.

चीनी जासूसी नेटवर्क मामले में बड़ा खुलासा, PMO समेत बड़े कार्यालयों की जानकारी पर थी नजर

प्रतीकात्मक तस्वीर

नई दिल्ली:

चीनी जासूसी नेटवर्क की पूछताछ में अहम जानकारी सामने आई है. जासूसी मामले में पकड़ी गई युवती क्विंसी से पूछताछ में जानकारी मिली है. जांच एजेंसियों को पूछताछ के दौरान पता चला कि चीन ने अपनी इंडियन जासूसी टीम को प्रधानमंत्री कार्यालय समेत बड़े कार्यालयों की आंतरिक जानकारी देने को कहा था. 

यह जानकारी ग्रेडिंग के हिसाब से देने के लिए कहा गया था. मसलन बडे कार्यालय में कौन शख्स अहम हैं. स्टाफ में कौन किस पद पर और कितना प्रभावशाली है. इस जानकारी के लिए कोलकाता की एक प्रभावशाली महिला से चीनी महाबोधी टेंपल के प्रमुख मौंक ने क्विंसी का परिचय करवाया था.

यह भी पढ़ें:चीनी सैनिक को मंगलवार रात वापस भेजा गया चीन, लद्दाख बॉर्डर के पास पकड़ा गया था

क्विंसी को कहा गया था कि यह प्रभावशाली महिला जो दस्तावेज उसे देगी उन दस्तावेजों को चीनी भाषा में ट्रांसलेट करके उसे चीन भेजना है. यह दस्तावेज चीनी कम्युनिस्ट पार्टी के एक प्रभावशाली लीडर की पत्नी के पास भेजे जाने थे. अब तक की पूछताछ के दौरान पता चला है कि यह दस्तावेज चीनी कम्युनिस्ट पार्टी के लीडर की पत्नी मिसेज डिंग और मिस्टर चाऊ को भेजे जाने थे.

Newsbeep

खुफिया एजेंसियों ने बयान के आधार पर पूरे मामले की गहन जांच शुरू की कोलकाता समेत अनेक जगहों पर कई लोगों से पूछताछ की जा रही है. इस मामले में दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने पिछले महीने एक पत्रकार राजीव शर्मा समेत चीनी युवती और उसके नेपाली साथी शेर बहादुर को गिरफ्तार किया था तीनों अभी भी तिहाड़ जेल में हैं. 

भारत के मामले में न बोले चीन : विदेश मंत्री एस जयशंकर

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com