NDTV Khabar

बिहार : नक्सलियों के साथ मुठभेड़ में CRPF के 10 कमांडो शहीद, राजनाथ सिंह ने की सीएम नीतीश से बात

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
बिहार : नक्सलियों के साथ मुठभेड़ में CRPF के 10 कमांडो शहीद, राजनाथ सिंह ने की सीएम नीतीश से बात

खास बातें

  1. सीआरपीएफ का दावा, इस मुठभेड़ में कुछ बड़े नक्‍सली नेता भी मारे गए
  2. मुठभेड़ औरंगाबाद और गया के बॉर्डर पर डुमरीनाला के पास सोमवार को हुई
  3. मुठभेड़ को लेकर गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने आज सीएम नीतीश कुमार से बात की
नई दिल्ली / गया:

बिहार के गया-औरंगाबाद बॉर्डर पर मदनपुर के डुमरी पुल के पास रात से नक्सलियों और CRPF जवानों की मुठभेड़ चल रही है, जिसमें कोबरा बटालियन के 10 जवान शहीद हुए हैं, जबकि चार जवान घायल हुए हैं, जिन्हें इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है। इस मुद्दे पर गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से बात की है।

बताया जा रहा है कि IED ब्लास्ट की चपेट में आने से जवानों की मौत हुई है। कई जवान अब भी इस इलाक़े में फंसे हुए हैं, जिन्हें यहां से निकालने की कोशिशें जारी हैं।  इस मुठभेड़ में चार नक्सलियों को भी मार गिराया गया है, जिनमें एक नक्सलियों का बड़ा कमांडर बताया जा रहा है। मारे गए नक्सलियों के पास ऑटोमेटिक हथियार भी मिले हैं।

टिप्पणियां

सीआरपीएफ और नक्सलियों की बीच मुठभेड़ औरंगाबाद और गया के बार्डर पर डुमरीनाला के पास सोमवार को  हुई है। सीआरपीएफ के जवान इस इलाके में 16 जुलाई से ही नक्सलियों की खोज में निकले थे, लेकिन उनका नक्सलियों से आमना-सामना सोमवार को करीब साढ़े 11 बजे दिन में हुआ। नक्सलियों ने पहले इन पर गोलीबारी की। फिर करीब 27 से 28 आईईडी धमाके भी किए। देर रात को इलाके में आईइडी होने की आशंका की वजह से ऑपरेशन रोक दिया था ताकि कोई अप्रिय घटना और ना हो जाए। हालात का मुआयना करने के लिए खुद सीआरपीएफ के डीजी के दुर्गा प्रसाद और दूसरे वरिष्ठ अधिकारी घटनास्थल पर जाएंगे।  


205 वीं कोबरा बटालियन के जवानों को नक्सल विरोधी अभियान के लिए राज्य में तैनात किया गया है। विशेष अभियान पर तैनात सीआरपीएफ की कोबरा इकाई के लिए यह सबसे बड़ी क्षतियों में से एक है।



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement